” यात्रीगण ध्यान दें “..भारतीय रेलवे में बदला टिकट रिजर्वेशन का नियम..!


नई दिल्ली- भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सुविधा को ध्‍यान में रखते हुए रिजर्वेशन के नियमो में बड़ा बदलाव किया है। भारतीय रेलवे के मुताबिक, अब ट्रेन स्‍टेशन से छूटने के 30 मिनट पहले दूसरा आरक्षण चार्ट भी जारी किया जाएगा। सभी जोनल रेलवे से आए आग्रह के आधार भारतीय रेलवे ने यह कदम उठाया है।
इस बदलाव के पीछे मकसद है कि पहले रिजर्वेशन चार्ट के आधार पर खाली सीटों के लिए ऑनलाइन और पीआरएस काउंटरों पर टिकटों की बुकिंग की जा सके। हम आपको बता दें कि कोविड-19 महामारी को देखते हुए भारतीय रेलवे ने ट्रेन खुलने से 2 घंटे पहले दूसरा आरक्षण चार्ट जारी करने का अस्थायी निर्णय लिया था। भारतीय रेलवे पहला आरक्षण चार्ट ट्रेन खुलने के 4 घंटे पहले जारी करता है।


सामान्‍य दिनों में आरक्षण चार्ट जारी करने को लेकर था यह नियम

कोरोना काल से पहले सामान्य ट्रेनों के लिए ट्रेनों के शेड्यूल या री-शेड्यूल डिपार्चर से 4 घंटे पहले पहला आरक्षण चार्ट जारी किया जाता था। वहींं, दूसरा चार्ट ट्रेन खुलने के 30 मिनट से 5 मिनट पहले जारी किया जाता था। यहीं नहीं, रिफंड नियमो के प्रावधानों के मुताबिक बुकिंग हुए टिकटों को इस समयावधि में रद्द भी किया जा सकता था। अब एक बार फिर भारतीय रेलवे दूसरा टिकट रिजर्वेशन चार्ट ट्रेन स्‍टेशन से छूटने के 30 मिनट पहले जारी करेगा।

कोरोना संकट के बीच भारतीय रेलवे इस नियम में किया गया था बदलाव

केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देशभर में लॉकडाउन लगा दिया था। सभी यातायात परिवहन को अस्थायी तौर पर बंद कर दिया गया था. सामान्य दिनों में चलने वाली 12 हजार से अधिक ट्रेनें रद्द कर दी गई थीं। भारतीय रेलवे ने कई नियम-शर्तो के साथ 1 मई के बाद विशेष ट्रेनें चलानी शुरू कींं. भारतीय रेलवे ने 11 मई 2020 को ट्रेनों के लिए दूसरा आरक्षण चार्ट जारी करने के नियमो में अस्थायी तौर पर बदलाव कर दिया।

इसके तहत स्टेशनों से ट्रेनों के छूटने के 2 घंटे पहले दूसरा आरक्षण चार्ट जारी किया जाने लगा। विशेष ट्रेनों के लिए ये प्रावधान किया गया था।