डायबिटीज के मरीज डाइट में शामिल करें ये चीजें, आसानी से कंट्रोल होगा ब्लड शुगर


हेल्थ डेस्क। ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ने की वजह से डाइबिटीज की बीमारी होती है। जिन लोगों की शारिरीक गतिविधियां कम होती हैं उन्हें इस बीमारी का खतरा ज्यादा रहता है। इसकी वजह से पैंक्रियाज प्रभावित होता है और शरीर में ब्लड शुगर लगातार बढ़ता चला जाता है। आमतौर पर डायबिटीज के मरीजों को कम खाने की सलाह दी जाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए कुछ खाद्य पदार्थों को डाइट में शामिल करने से भी आपको फायदा हो सकता है।

रागी रोटी है बहुत फायदेमंद – रागी में पॉलीफेनोल और डाइट्री फाइबर भरपूर मात्रा में होता है। इसमें मौजूद कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स फूड क्रेविंग को कम करता है। साथ ही पाचन गति को बनाए रखता है, जिसकी वजह से ब्लड शुगर नियंत्रित रहती है। जो लोग भी अपनी हाई ब्लड शुगर लेवल से परेशान हैं उन्हें रोजाना रागी रोटी का सेवन करना चाहिए।

ऑलिव ऑयल है असरदार – ऑलिव ऑयल यानी जैतून के तेल में कैलोरी और कार्ब्स की मात्रा काफी मात्रा में होते हैं। इससे ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद मिल सकती है। जैतून को डायबिटीज के मरीजों के लिए सही इसलिए माना गया है क्‍योंकि इसमें ओलियोप्रोपिन होता है। यह जैतून का सबसे शक्तिशाली पॉलीफेनोल है। यह एक शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट माना जाता है।

इलायची मानी जाती है खास – डॉक्टरों का मानना है कि इलायची में हाइपोलिपिडेमिक तत्व पाए जाते हैं। इससे ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल किया जा सकता हैं। इसमें मौजूद कई एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी इफ्लेमेटरी तत्व वजन घटाने के साथ-साथ ब्लड शुगर को नियंत्रित रखने में मदद करते हैं। जिन लोगों को शुगर है उन्हें चाय या काढ़ा में डालकर इलायची का सेवन करना चाहिए। आप चाहें तो इलायची को चबा-चबाकर भी खा सकते हैं।

सिंघाड़ा का सेवन है जरूरी – ब्लड शुगर को नियंत्रित रखने के लिए सिंघाड़ा खाना बहुत फायदेमंद माना जाता है। सिंघाड़ा एक लो शुगर फल है। इसमें ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जिनसे आपके शरीर में पानी की मात्रा बढ़ती है। साथ ही इससे डायबिटीज का खतरा भी टल जाता है। जिन लोगों को ब्लड शुगर की वजह से फल खाने को मना किया जाता है वह सिंघाड़ा खा सकते हैं। इसके अधिक सेवन से भी नुकसान नहीं पहुंचता है।