कब्ज, गैस जैसी समस्याएं दूर करने के साथ ही इम्यूनिटी को भी बूस्ट करता है फर्मेंटेड फूड.. जानें इसे और करें आपना इम्युनिटी बूस्ट..!


हेल्थ डेस्क। फर्मेंटेशन, खानपान को लंबे समय तक सुरक्षित रखने, उनका स्वाद बेहतर बनाने और न्यूट्रिशन देने के लिए किया जाता रहा है। फर्मेन्टेशन के दौरान फूड आइटम्स में एक तरह के बैक्टीरिया पनपते हैं जो बहुत ही फायदेमंद होते हैं इन्हें प्रोबायोटिक कहा जाता है। जो हमारी इम्यूनिटी को बेहतर बनाने, पाचन को सुधारने में मदद करते हैं। इडली, डोसा, जलेबी, भटूरे जैसी चीज़ें फर्मेंटेड फूड ही हैं। तो आइए जानते हैं इनके अन्य फायदे…

इम्यूनिटी बढ़ाने में मददगार

पेट में रहने वाले बैक्टीरिया हमारी इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करते हैं। जिससे किसी भी तरह का इन्फेक्शन होने की संभावना काफी हद तक कम हो जाती है। इसके साथ ही इसमें विटामिन सी, आयरन, जिंक जैसे न्यूट्रिशन भी होते हैं जो इम्यून सिस्टम के लिए हैं बेहद फायदेमंद। 

शुगर करता है कंट्रोल

अगर आपको डायबिटीज की प्रॉब्लम है तो आप इस तरह के भोजन से शुगर की मात्रा को भी आसानी से कंट्रोल कर सकते हैं। डायटिशियन और डॉक्टर्स भी ऐसे फूड आइटम्स को खाने की सलाह देते हैं।

आंतो को रखता है दुरुस्त

फर्मेंटेड फूड में मौजूद कुछ ऐसे अम्ल रस होते है जो हमारी आंतो को रखते हैं हेल्दी। इसमें लैक्टिक एसिड पाया जाता है जिसके सेवन से आंतो से जुड़ी परेशानियों को कम कर सकते हैं। इतना ही नहीं फर्मेंटेड फूड की मदद से गैस, कब्ज या एसिडिटी जैसी समस्याएं भी दूर होती हैं।

डिटॉक्सिफिकेशन का बेहतरीन जरिया  

तमाम तरह के डिटॉक्सीफाई वॉटर और अन्य नुस्खों को आजमाने के बाद ही आप संतुष्ट नहीं तो हफ्ते में दो से तीन बार खमीरयुक्त भोजन खाएं। इस तरह के भोजन में मौजूद न्यूट्रिएंट्स और बैक्टीरिया हमारे शरीर को बहुत ही आसानी से डिटॉक्सिफाई कर देते है।null

कैंसर की संभावनाएं करता है कम 

फर्मेंटेड फूड आपको कैंसर जैसी बीमारी से भी दूर रखता है। जैसा कि आप देख ही रहे हैं कि आजकल प्रोस्टेट कैंसर की समस्याएं बहुत बढ़ गई हैं, ऐसे में इस तरह का भोजन काफी हद तक फायदेमंद साबित हो सकता है। 

विटामिन से भरपूर 

ज्यादातर लोगों को लगता है कि फर्मेंटेड फूड में सिर्फ स्वाद होता है किसी तरह का न्यूट्रिशन नहीं तो आपको बता दें कि इस तरह के भोजन में विटामिन ए और विटामिन सी अच्छी खासी मात्रा में मौजूद होते हैं।