विश्व भर में एक करोड़ के पार हुए कोरोना मरीज..WHO ने हैरत करने वालें आंकड़े किये जारी..पढ़े..!!

नई दिल्ली। वैश्विक महामारी कोरोनो वायरस के मामले रविवार को 1 करोड़ के आंकड़े को पार कर गया। अब तक सात महीनों में इस महामारी से करीब 5 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार संक्रमण का आंकड़ा सालाना दर्ज किये जाने वाले गंभीर इन्फ्लूएंजा बीमारों की तुलना में दोगुना है। यह आंकड़ा ऐसे समय में आया है जब कोरोना से गंभीर रूप से प्रभावित कई देश लॉकडाउन नियमों की कठोरता को कम कर रहे हैं। हालांकि जब तक एक टीका उपलब्ध नहीं होता है, कोरोना महामारी एक साल या उससे अधिक समय तक जारी रह सकती है।

कुछ देशों में संक्रमणों में फिर से तेजी आ रही है।

विशेषज्ञों का कहना है कि आने वाले महीनों और 2021 में महामारी और तेज हो सकती है। इसलिये आंशिक रूप से लॉकडाउन को लगातार बहाल रखना जरूरी है। उत्तरी अमेरिका, लैटिन अमेरिका और यूरोप में लगभग 25 प्रतिशत मामले सामने आये हैं। जबकि एशिया और मध्य पूर्व में क्रमशः लगभग 11 प्रतिशत और 9 प्रतिशत मामले हैं। कोरोना वायरस बीमारी से अब तक 497,000 से अधिक मौतें हो चुकी हैं। हर साल इन्फ्लूएंजा से होने वाली मौतों की संख्या भी लगभग उतनी ही है।

चीन में वुहान में 10 जनवरी को कोरोनोवायरस के पहले मामलों की पुष्टि की गई थी। पहले यूरोप में फिर अमेरिका और बाद में रूस में कोरोनावायरस मामलों की संख्या में सबसे ज्यादा वृद्धि हुई। महामारी अब एक नए चरण में प्रवेश कर चुकी है। जिसमें भारत और ब्राजील कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के प्रकोप से जूझ रहे हैं। जिससे संसाधनों पर भारी दबाव पड़ा है।

अमेरिका में 25 लाख से अधिक अधिक मामलों की रिपोर्ट की गई है। जो किसी भी देश में सबसे ज्यादा है। अमेरिका मई में कोरोना वायरस के प्रसार को धीमा करने में कामयाब रहा। जबकि हाल के हफ्तों में इसका विस्तार ग्रामीण क्षेत्रों और अन्य स्थानों पर हुआ, जो पहले महामारी से अप्रभावित थे। जबकि सीमित परीक्षण क्षमताओं वाले कुछ देशों में पुष्ट मामलों की संख्या कुल संक्रमणों के एक छोटे अनुपात को दिखाते हैं।