वनभूमि मे अतिक्रमण पर वन विभाग ने की त्वरित कार्यवाही


कोरबा.,16 अक्टूबर ।पाली वन परिक्षेत्र अंतर्गत मुख्य मार्ग से सटे वन विभाग की भूमि पर अवैध रूप से व्यवसायिक उपयोग के लिए हो रहे अतिक्रमण पर ग्रामीणों की शिकायत पर वन विभाग ने त्वरित कार्यवाही करते हुए निर्माण को तोड़कर समान जब्त किया।
वन परिक्षेत्र क्षेत्र पाली के ग्राम पंचायत के आश्रित मोहल्ला छिंदपारा की वन भूमि कक्ष क्रमांक OA 583 क्षेत्रफल 18. 502 के लिए पाली रेंज में भी वन की सुरक्षा हेतु वन प्रबंधन समिति बनाई गई है । यह वन बिलासपुर से कटघोरा के मुख्य मार्ग के किनारे है।जिस पर व्यवसायिक उपयोग के लिए अतिक्रमणकारियों की नजर थी। विगत कुछ दिन से गुपचुप तरीके से निर्माण कार्य चल भी रहा था। जिसकी भनक ग्राम वन समिति को लग गई। जिनके द्वारा वन विभाग, राजस्व विभाग, थाना को लिखित सूचना से अवगत कराया और अवैध निर्माण को तोड़ने की कार्यवाही करने की मांग की गई। जिस पर पाली वन विभाग के द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए ग्राम वन समिति एवं स्व सहायता समूह की उपस्थिति में उक्त बेजा कब्जा को तोड़ा गया एवं वहां पर मिला निर्माण सामग्री को वन विभाग के टीम के द्वारा जप्ती की कार्यवाही की गई ।बताया जाता है कि चद्दर, सीट,शटर,निर्माण सामग्री व उपकरण, सीमेंट, पंखा, बिजली फिटिंग, पलंग, आदि की जप्ती की गई। अतिक्रमणकरियो के विरुद्ध वन संरक्षक अधिनियम 1980 के तहत कार्रवाई की गई। कार्यवाही के दौरान एल ,के, शर्मा डिप्टी रेंजर पाली यसवंत कुमार आडिल, वनरक्षक पाली राजेश कुमार धिरही वनरक्षक, राम जी पांडे उपस्थित रहे एवं वन प्रबंधन समिति छिदपारा व स्व सहायता समूह आदि के पदाधिकारी उपस्थित थे।विदित हो कि छिंदपारा का लगभग 5-7 एकड़ शासकीय भूमि खसरा 624/1क है जिसकी सुरक्षा के लिए समिति सक्रियता से कार्य कर रहा है। उनकी जागरूकता से अतिक्रमण का बड़ा मामला पर्दाफाश हो गया।
इस शासकीय भूमि पर भी बहुत दिनों से भूमाफियाओ की नजर लगी हुई है जो कि भविष्य में अवैध निर्माण कर सकते है जिसे देखते हुए ग्राम वासियों के द्वारा खेल मैदान के लिए शासन से मांग किया गया है ।