लॉक डाउन में शादी करने की अनुमति लेने की लगी भीड़…..

बलौदाबाजार कोरोना वायरस संक्रमण रोकने निषेधाज्ञा धारा 144 लागू है। ऐसे में एक साथ चार या चार से अधिक लोगों का एकत्र होना गैर कानूनी है। शादी समारोह में पहले पांच और बाद में अधिकतम 10 लोगों की मौजूदगी का नियम बनाने के साथ ही संबंधित दंडाधिकारी से अनुमति लेना अनिवार्य किया गया है। इसके चलते विवाह योग्य अनेक युवक-युवतियां परिणय सूत्र में बंधने परिस्थितियां सामान्य होने का इंतजार कर रहे हैं। विवाह के लिए अनुमति लेने मंगलवार को बलौदाबाजार कलेक्टर ऑफिस में भीड़ लग गई। अंतत: कलेक्टर और जिला दंडाधिकारी को यह कहना पड़ा कि विवाह समारोह आयोजित करने किसी अनुमति की जरूरत नहीं है।

फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करें और वर-वधु पक्ष दोनों मिलाकर अधिकतम 20 लोगों से ज्यादा एक साथ एकत्र न हों।

भीड़ का यह नजारा बलौदाबाजार कलेक्टर परिसर का है। शादी की अनुमति के लिए मंगलवार को बड़ी संख्या में ग्रामीणों भीड़ जुट गई। चिलचिलाती धूप में विवाह समारोह के लिए अनुमति लेने और अर्जी देने लंबी कतार लगी रही। इस दौरान लॉकडाउन नियमों का न केवल खुला उल्लंघन हुआ वरन फिजिकल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं हुआ। धारा 144 को धत्ता बताकर कलेक्टोरेट में भारी भीड़ जमा हो गई। इससे जिला प्रशासन की बड़ी लापरवाही देखने को मिली।

दरअसल, लॉकडाउन खुलने और समारोहपूर्वक विवाह संपन्न कराने सैकड़ों लोग इंतजार कर रहे हैं। इसके लिए शादी कार्यक्रम कुछ दिनों के लिए टाल दिए गए थे। कोरोना संक्रमित मरीजों के मिलने और एक के बाद एक लॉकडाउन की अवधि बढ़ने से लोगों का सब्र साथ छोड़ चुका है। अब जैसे-तैसे कर बेटे-बेटियों का हाथ पीले कर देने की जुगत ग्रामीण लगा रहे हैं। इसके लिए कोई अड़चन न आए, जिला दंडाधिकारी से अनुमति लेने की होड़ सी मच गई।

शादी के लिए अनुमति की जरूरत नहीं : कलेक्टर

इस बीच बलौदाबाजार कलेक्टर कार्तिकेय गोयल ने कहा है कि शादी के लिए अलग से किसी अनुमति की जरूरत नहीं है। शादी समारोह आयोजित करने के लिए तीन चार बातों का ध्यान रखें। वर-वधू पक्ष दोनों मिलाकर अधिकतम 20 लोगों की उपस्थिति होनी चाहिए। विवाह समारोह में फिजिकल डिस्टेंस का पालन करना होगा। समारोह सार्वजनिक स्थल पर नहीं कर सकते हैं। अपने घर, आंगन या बाड़ी में ही विवाह समारोह संपन्न करना है। सड़क या सार्वजनिक स्थान पर टैंट नहीं गाड़ना है। इन बातों को ध्यान में रखते हुए लोग विवाह करा सकते हैं। इसके लिए अलग से अनुमति लेने की आवश्यकता नहीं है। यदि कोई व्यक्ति गाड़ी से एक स्थान से दूसरे स्थान आना-जाना चाहते हैं, तो उसके लिए वाहन पास की आवश्यकता होगी। इसके लिए आनलाइन आवेदन किया जा सकता है। आवेदन के बाद पास जारी किए जाएंगे। इसके लिए लाइन लगाने की जरूरत नहीं है