रायगढ़/क्वारेंटीन सेंटरों में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जावेगी- कलेक्टर भीम सिंह

  • कलेक्टर ने विडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से सभी एसडीएम/जोनल अधिकारियों से की चर्चा

रायगढ़, 30 मई 2020/ कलेक्टर भीम सिंह ने आज विडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से जिले के सभी एसडीएम और क्वारेंटीन सेंटर के जोनल अधिकारियों से सीधे चर्चा कर निर्देशित किया कि क्वारेंटीन सेंटरों में रहने वाले प्रवासी श्रमिकों और अन्य व्यक्तियों को किसी प्रकार की असुविधा अथवा परेशानी नही होनी चाहिए, प्रत्येक जोनल अधिकारी अपने क्षेत्र के क्वारेंटीन सेंटरों में एक-एक दिन के अंतराल से स्वयं जाकर मुआयना करें और वहां रहने वाले व्यक्तियों से रूबरू होकर उनकी समस्याओं को संवेदनशील होकर निराकरण करें, क्वारेंटीन सेंटरों में जो भोजन बन रहा है वह गुणवत्तापूर्ण होना चाहिये, परिसर की साफ-सफाई व्यवस्थित ढंग से हो रही है कि नहीं यहां तक कि क्वारेंटीन सेंटरों के कचरा प्रबंधन भी सही ढंग से होना चाहिये इसके लिए परिसर के भीतर ही एक 6&6 फीट का गहरा गड्ढा बनाकर उसमें निष्पादन किया जाना चाहिये, उन्होंने अधिकारियों को यह भी निर्देशित किया कि वे जनता की सेवा के लिए नियुक्त हुये है और क्वारेंटीन सेंटरों की देखभाल बहुत महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है इसमें लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

कलेक्टर भीमसिंह ने विडियो कान्फ्रेसिंग के दौरान जोनल अधिकारी और क्वारेंटीन सेंटर के नोडल अधिकारियों को यह भी निर्देशित किया कि आगामी 4 दिन के भीतर जिले के सभी क्वारेंटीन सेंटरों में रहने वाले श्रमिकों का स्किल मेपिंग डाटा विवरण में संपूर्ण विवरण भरवाकर प्रशासन को उपलब्ध करावें ताकि इन श्रमिकों को स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराया जाये साथ ही उनके साथ रहने वाले बच्चों का भी पूर्ण विवरण तैयार किया जाये कि जहां पर वे काम करने गये थे उनका बालक/बालिका किस कक्षा में पढ़ाई कर रहा था जिससे यहां पर उसके आगामी शिक्षा की व्यवस्था प्रारंभ की जा सके। उन्होंने अधिकारियों को यह भी निर्देशित किया कि अपने-अपने क्षेत्रों में विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों में यह जागरूकता लाये कि प्रत्येक व्यक्ति मॉस्क लगावे, समय-समय पर साबुन से हाथ धोने और साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देवे और बाहर से आने वाले व्यक्तियों के विषय प्रशासन को जानकारी उपलब्ध करावे तथा क्वारेंटीन सेंटरों में कोई बाहर का व्यक्ति प्रवेश न करें तथा अंदर रहने वाला व्यक्ति बाहर न निकले इन बातों का विशेष ध्यान रखा जाये। कलेक्टर श्री भीम सिंह ने कहा कि गर्भवती महिलाओं को प्रत्येक ब्लाक के एक ही क्वारेंटीन सेंटर में रखा जाये और उनके स्वास्थ्य की जांच निरंतर होनी चाहिये तथा उनके लिए पौष्टिक आहार प्रदान किया जाये। विडियो कान्फ्रेसिंग के दौरान एडीएम श्री राजेन्द्र कटारा, जिला पंचायत की सीईओ सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी सहित वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।