रायगढ़ के रेलकर्मी भी कोरोना फाइटर्स..आपसी सहयोग से कर रहें हैं बड़े कार्य

रायगढ़, 18 मई। रायगढ़ के रेल्वे कर्मचारियों ने कोरोना फाइटर्स के रूप में एक सराहनीय कार्य कर दिखाया है। पूरे देश मे माल वाहक ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है। मालगाड़ियों के द्वारा देश के विभिन्न प्रान्तों में आवश्यक वस्तुओं के साथ ही अनुमति प्राप्त सामानों का परिवहन निरन्तर जारी है ताकि कहीं भी किसी भी प्रकार के सामानों की कोई कमी न हो, साथ ही देश की विभिन्न विद्युत उत्पादक इकाइयों में कोयले की ट्रांसपोर्टिंग भी रेल्वे के द्वारा ही की जा रही है।

इस कार्य मे रेल्वे के सभी कर्मचारी अपनी जान जोखिम में डालकर सेवाए दे रहें है। इन सभी कर्मचारियों ने रायगढ़ रेल्वे स्टेशन में सेनेटाइजेशन की व्यवस्था की है।इस कार्य मे सबसे खास बात यह है कि रेलकर्मियों द्वारा किया जा रहे सेनेटाइजेशन का खर्च रेलकर्मी स्वयं वहन कर रहे है और सेनेटाइजेशन का काम हर उस मालगाड़ी के इंजिन में किया जा रहा है जिसमे चालक परिचालक अपनी पूरी ड्यूटी पीरियड में रहते है और मालगाड़ी को अपने गन्तव्य तक पहुंचाने का कार्य करते हैं।

अपने साथी कर्मचारियों को सेनिटाइज करने का यह बीड़ा रायगढ़ के रेल्वे कर्मचारियों ने उठाया है। सभी रेल कर्मी मिलकर अपनी पगार के पैसों से मालगाड़ी और रायगढ़ से गुजरने वाली सभी स्पेशल ट्रेनों को सेनिटाइज करने का काम कर रहे है। कोरोना के संक्रमण से अपने रेल्वे स्टाफ को महफूज रखने की यह पहल निश्चित ही सराहनीय है। इस बात से सभी को सीख लेनी चाहिए कि ऐसी विकट परिस्थितियों में जब हम मदद के लिए सरकार और प्रशासन की ओर देखते है तो वहां रायगढ़ के रेल्वे स्टाफ ने एक कदम बढ़ाते हुए खुद की सुरक्षा के लिए आगे आए है।

हम सभी को भी ऐसा ही प्रयास करना चाहिए और इस वैश्विक महामारी के दौर में शासन प्रशासन का सहयोग करना चाहिए। रायगढ़ रेल्वे कर कर्मचारियों ने जनसहयोग का एक उदाहरण प्रस्तुत करते हुए नेक व प्रेरणादायक कार्य किया है।