रायगढ़ डायल 112 की ERV वाहन में युवती ने दिया स्वस्थ बच्चे को जन्म..किलकारी से गूंज उठी वाहन

डायल 112 स्टॉफ की सूझबूझ से जच्चा-बच्चा सुरक्षित

रायगढ़ 15 मई। छत्तीसगढ़ में वर्ष 2018 से संचालित आपातकालीन सेवा डायल 112 की ERV वाहन आमजनों के लिए विपरीत परिस्थितियों में काफी मददगार हो रहा  है । इस सुविधा के जरिए आमजन एक काल में मेडिकल, पुलिस व फायर की सुविधा ले रहे हैं । लाक डाउन दौरान डायल 112 बेहद हितकारी साबित हुई । जब पब्लिक ट्रांसपोर्ट उपलब्ध नहीं होने से कई मेडिकल इमरजेंसी तथा  थाना/चौकी रिपोर्ट दर्ज कराने आने में कॉलर की मदद की गई । इस दौरान डॉयल 112 पर जरूरतमंदों के कॉल आने पर उन्हें स्टाफ द्वारा भोजन आदि में मदद कराई गई । लाक डाउन में पीड़ितों को मेडिकल इमरजेंसी सेवा के लिए डायल 112 को काफी  कॉल प्राप्त हुए जिसमें प्रेगनेंसी कैसे सबसे ज्यादा है । 

ऐसा ही एक कॉल दिनांक 12.05.2020 को ग्राम गदगांव पूंजीपथरा के लिए पूंजीपथरा राइनो को शाम करीब 7:15 बजे प्राप्त हुआ । ग्राम गदगांव पहुंची डॉयल 112 की ERV वाहन में स्टाफ ने कॉलर की पत्नी गर्भवती महिला श्रीमती हेमलता यादव पति दिनेश यादव उम्र 21 वर्ष,  उसके पति , गांव की मितानिन व गांव की एक और महिला को बिठाकर सीएचसी अस्पताल घरघोड़ा ले जा रहे थे । रास्ते में सीएचसी घरघोड़ा पहुंचने के पूर्व ग्राम नवापारा के पास आहिता को दर्द ज्यादा होने लगा तब डायल 112 स्टाफ द्वारा सूझबूझ दिखाते हुए ग्राम नवापारा के पास वाहन को रोके। पास के घरों से प्रसव के लिए आवश्यक सामान की व्यवस्था किए और वाहन में बापर्दा मितानिन व अन्य महिला के सहयोग से प्रसूता का प्रसव कराए । वहां महिला ने एक स्वस्थ लड़की को जन्म दी है जिसे तुरंत डॉयल 112 नरेश कुमार रजक और चालक तुलेश्वर राठिया घरघोड़ा अस्पताल ले जाकर प्रसूता एवं शिशु को भर्ती कराये । दोनों स्वस्थ्य है । दूसरे दिन डॉयल 112 पुन: CHC घरघोड़ा गये और महिला व शिशु का हाल-चाल जाना उन्हें फिर एक बार शिशु की बधाई देकर महिला को फल देकर आये ।