बिग ब्रेकिंग: अलविदा अजित जोगी.. छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का निधन

रायपुर 29 मई । अजित जोगी के पुत्र अमित जोगी ने ट्वीट कर बताया कि उनके पिता अजीत जोगी ने इस दुनियां को अलविदा कह दिया है। विदित हो कि छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री कद्दावर नेता अजीत जोगी को कार्डियक अरेस्ट आने के बाद रायपुर के श्री नारायणा हॉस्पिटल में ट्रीटमेंट चल रहा था लेकिन उनकी स्थिति बहुत ही क्रिटिकल बन हुई थी, उनका मस्तिष्क सक्रिय नहीं हो रहा था। डॉक्टरों की सुपर स्पेशलिस्ट टीम अजित जोगी के स्वास्थ्य को ठीक करने में लगातार मेहनत कर रही थी। अजित जोगी विगत 09 मई से कोमा में थे और उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था। कोमा में रहते हुए अजित जोगी अपने नाम के अनुरूप मौत से लड़ रहे थे लेकिन आज दोपहर उन्हें फिर कार्डियक अटैक न्होंने मौत से हार मान ली। 75 वर्ष के उम्र में अंतिम श्वास लेते हुए अजित जोगी में अपना देहत्याग कर दुनियां को अलविदा कह दिया। अजित जोगी आईएएस भी थे और अपने बेहतर प्रशासनिक प्रबंधन और अनुशासन के लिए जाने जाते थे। बताया जा रहा है उन्हें आज से पहले दो मर्तबा कार्डियक अरेस्ट आ चुका है लेकिन आज दोपहर उन्हें फिर से कार्डियक अरेस्ट आया और डाक्टरों के लाख कोशिशों के बावजूद वे अजित जोगी को नही पाए और 3:30 पर उनका स्वर्गवास हो गया। कल उनका अंतिम संस्कार गौरेला में किया जायेगा। इससे पहले अब से कुछ देर बाद सागौन बंगला में उनका शव ले जाया जायेगा और आम लोगों के दर्शनार्थ उनका शव रखा जायेगा। रात 9 बजे तक उनका अंतिम दर्शन किया जा सकेगा। अजीत जोगी का पार्थिव शरीर उसके बाद बिलासपुर ले जाया जायेगा, वहां मरवाही सदन में उनका पार्थिव देह अंतिम दर्शन के लिए रखने के बाद जोगी जी का पार्थिव शरीर रतनपुर-कोटा के रास्ते अपने पैतृक गांव के लिए रवाना होगा। कल दोपहर बाद उनका अंतिम संस्कार किया जायेगा।

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की पूरी जिंदगी आम जनता के हितों को समर्पित रही। वे न केवल अच्छे राजनेता रहे, बल्कि कुशल प्रशासक, विद्वान और लेखक के रूप में भी वे हमेशा लोगों के दिलों में जिंदा रहेंगे।

पिता के जाने के बाद अमित जोगी ने ट्वीट कर पिता के लिए कही भावनात्मक बातें:

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट करते हुए उन्हें दी अपनी श्रद्धांजलि :