छत्तीसगढ़ में भी हाथरस जैसी घटना : शादी घर गई युवती को सात युवक उठाकर ले गए बाहर और किया सामूहिक गैंगरेप, घटना के दो दिन बाद युवती ने कर ली थी आत्महत्या ! आत्महत्या मान युवती को कर दिया गया था दफन ! अब लड़की के पिता ने की आत्महत्या की कोशिश तो मृत युवती की सहेली ने किया दावा,शादी में गयी थी तो युवती के साथ हुआ था सामूहिक गैंगरेप, किसी को भी बताने पर मृत युवती को दी गयी थी हत्या करने की धमकी ! परिजनों व मृत युवती के सहेली के बयान के आधार पर पुलिस ने युवती के शव को कब्र से पोस्टपार्टम हेतू निकाला बाहर.. पुलिस जुटी जांच में.. पढ़े सनसनीखेज खबर..!


केशकाल। कोंडागांव जिले में केशकाल के ओड़ागांव में एक युवती के साथ सात लोगों के द्वारा सामूहिक दुष्कर्म करने और इसके बाद युवती के आत्महत्या कर लेने का मामला प्रकाश में आया है। इस मामले में खास बात यह है कि पुलिस ने पिछले तीन महीनों में न तो मामले में दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज की थी और न ही इस तरह की कोई जांच की थी, लेकिन परिजनों की लगातार शिकायतों के बाद और घटना की प्रत्यक्षदर्शी मृतका की सहेली के सामने आने के बाद बुधवार को पुलिस हरकत में आई। पुलिस अफसरों का कहना है कि मामले में नई शिकायतों के बाद युवती के शव को कब्र से निकलवाया गया है। युवती के शव का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा। इसके बाद ही पूरे मामले का खुलासा हो पाएगा। इस मामले पुलिस ने 3 को हिरासत में ले लिया है।

एसडीओपी अमित पटेल ने बताया कि अभी हमने शव को कब्र से निकलवाया है। डाॅक्टरों की टीम शव का पीएम करेगी। इसके बाद मामले में आगे कुछ कहा जा सकेगा। इधर, युवती के चाचा ने दावा किया है कि अनाचार की घटना के बाद से परिवार के सदस्य लगातार पुलिस को इस तरह की शिकायतें कर रहे थे लेकिन मामले में किसी ने संज्ञान नहीं लिया।

पिता ने भी किया था आत्महत्या का प्रयास:

आत्महत्या करने वाली युवती के पिता ने भी गत 4 अक्टूबर को घर में पड़ा कीटनाशक खाकर आत्महत्या का प्रयास किया था। हालांकि परिजनों ने पिता को समय रहते हास्पिटल पहुंचा दिया जिससे उनकी जान बच गई।

घटना के अगले दिन 5 अक्टूबर को युवती का पिता हाथ में लगे सेलाइन समेत बिना बताए कहीं चला गया है। परिजनों के मुताबिक बिना किसी कारण के पिता द्वारा आत्महत्या के प्रयास के बाद जब परिजनों ने खोजबीन की तो इसकी कड़ी पुत्री की आत्महत्या से जुड़ी मिली जिसके बाद परिजनों ने शिकायत की तब जाकर युवती के शव को निकाला गया।

पीड़िता की सहेली का दावा शादी में हुआ था दुष्कर्म


पीड़िता की सहेली ने दावा किया कि करीब तीन महीने पहले वह और उसकी सहेली कानागांव में आयोजित एक शादी समारोह में शामिल होने एक साथ गए थे। यहां शादी में देर रात तक नाच-गाना चला। इसी दौरान कानागांव और फूंडेर गांव के सात युवकों ने देर रात अचानक ही उसकी सहेली को शादी वाले घर से उठा लिया और उसे जंगल की ओर ले गए। इसके बाद सहेली के साथ दुष्कर्म किया गया। सहेली ने दावा किया कि वहां से लौटने के बाद उसकी सहेली ने उसके साथ हुई घटना की जानकारी उसे दी। उसने कहा कि अनाचार करने वाले युवकों ने घटना की जानकारी किसी को भी देने पर हत्या करने की धमकी दी थी। घटना के दो दिनों बाद युवती ने आत्महत्या कर ली थी।