जुलाई-अगस्त में अपने पीक पर होगा कोरोना, सर गंगाराम हॉस्पिटल के सीनियर डॉक्टर ने चेताया

नई दिल्ली 13 जून:- भारत में कोरोना वायरस का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है इसी बीच लॉकडाउन में ढील देने से संक्रमण की रफ्तार भी बढ़ती दिखाई दे रही है। देश में कोरोना वायरस महामारी के संकट पर बात करते हुए दिल्ली के सर गंगा राम अस्पताल के उपाध्यक्ष डॉ एसपी ब्योत्रा ने कुछ हैरान करने वाले दावे किए। उन्होंने कहा, हम जुलाई के शुरुआती या मध्य में या संभवतः अगस्त में महामारी का उच्चतम प्रकोप देख सकते हैं, इसके अलावा अगले साल के पहले तीन महीने तक महामारी का टीका आने की भी संभावना कम है।

सर गंगाराम अस्पताल के वाइस चेयरमैन डॉ एसपी ब्योत्रा के इस दावे के बाद से लोगों में कोरोना वायरस से जल्द छुटकारा पाने की उम्मीद को बड़ा झटका लगा है।

एसपी ब्योत्रा के मुताबिक हमें अभी कोरोना वायरस से लंबी लड़ाई लड़नी है। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा, जुलाई के मध्य या अगस्त तक कोरोना वायरस अपने चरम पर पहुंच सकता है। यह वो दौर होगा जब महामारी अपने सबसे भयानक रूप में होगी। इसके अलावा, मुझे नहीं लगता है कि अगले साल की पहली तिमाही तक कोरोना की वैक्सीन आ जाएगी।

3 लाख के बहुत करीब पहुंचा आंकड़ा

गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या तीन लाख का आंकड़ा छूने के बहुत करीब है। केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के सर्वाधिक 10,956 मामले सामने आए हैं, इस दौरान देशभर में 396 मौतें हुई हैं। देश में अब कोरोना के मामलों की कुल संख्या 2,97,535 है, जिनमें 1,41,842 सक्रिय मामले हैं और 1,47,195 लोग ठीक हो चुके हैं या उन्हें डिस्चार्ज किया जा चुका है। वहीं, अब तक महामारी से कुल 8,498 लोगों की जान जा चुकी है।