चरामेति फाउंडेशन हर साल की तरह इस साल भी दीपावली पे जरूरत मंद परिवारों के साथ खुशियाँ बांटी…


कोरबा– हमने सुनते आया है कि खुशियां बांटने से बढ़ती हैं। इसे कोरबा के चरामेति फाउंडेशन ने दीवाली में अपनाया है। खुशी अगर अपनों के अलावा जरूरतमंदों के साथ बांटी जाए। जिनके चेहरे पर हर त्यौहार में उम्मीद रहती अच्छी त्योहार हो, लेकिन वे अपनी मजबूरी और विवशता के आगे अपनों को वे खुशी नहीं दे पाते जो अपने परिवार को देना चाहते हैं। ऐसे परिवारों के बीच चरामेति फाउंडेशन पिछले 6 साल से दीपावली के साथ अन्य अवसरों पर भी पहुंचकर उन परिवारों को जिनको जरूरत हो उन्हें न सिर्फ जरूरत के सामान भेंट करते आ रहे हैं, बल्कि उनके साथ खुशियां भी बांटते हैं। अपनी इसी तरह की सेवा गतिविधियों के लिए जानी जाने वाली संस्था चरामेति फाउंडेशन है।

इसके सभी पदाधिकारी और सदस्य सेवा का कोई मौका नहीं छोड़ना चाहते हैं। दीपोत्सव पर इस संस्था ने 500 से अधिक ग्रामीण और जरूरतमंद बच्चों को कपड़े भेंट किए। साथ ही उन्हें मिठाई, चाॅकलेट और पटाखे देकर उनके चेहरों की मुस्कान अपने हिस्से में लेने में सफल रहे। संस्था ने सेवा का यह कार्य कोरबा जिले के साथ बिलासपुर, गरियाबंद व रायपुर जिले के कई क्षेत्रों में पहुंच कर किए। चरामेति फाउंडेशन के डायरेक्टर प्रशांत महतो ने कहा कि पूरे प्रदेश में झुग्गी-बस्तियों में रहने वाले जरूरतमंद बच्चों में पटाखे, मिठाइयां, चॉकलेट व नए कपड़े बांटने का लक्ष्य रखा था। कोरबा जिले के ग्राम कचोरा, दीपका, बरपाली व मोतीसागरपारा स्थित कुष्ठ आश्रम समेत संस्था के सभी कार्यकर्ताओं के आसपास के रहने वाले नन्हे मुन्ने बच्चों में पटाखे, मिठाइयां व नए वस्त्रों का वितरण किया गया। कार्यक्रम में फाउंडेशन के प्रशांत महतो, दीपक साहू, संजय दास, गिरीश राठौर, कमल दीवान, लक्ष्मण दावड़ा ने सहयोग किया। इस मौके पर रानी धनराज कंवर देवी के वंशस कुमार रवि भूषण प्रताप सिंह ने भी संस्था के कार्यों से प्रभावित होकर सदस्यता ग्रहण की और वितरण कार्य में मदद किए।