कलेक्टर भीम सिंह की पहल पर कोरोना मरीजों के इलाज के लिए 100 अतिरिक्त बिस्तर की तैयारी पूर्णता की ओर

मेडिकल कालेज रायगढ़ में तैयार हो रहा है 100 बिस्तरों का कोरोना अस्पताल

अब जिला मुख्यालय में अब एमसीएच व मेडिकल कालेज मिलाकर कोरोना मरीजों के लिए होगी 200 बिस्तरों की सुविधा

रायगढ़ 9 जून:- कलेक्टर भीम सिंह ने मेडिकल कालेज का निरीक्षण किया। जहां उनके निर्देश पर कोरोना मरीजों के बेहतर उपचार के लिए 100 बिस्तर की सुविधा का विस्तार किया जाना था। जिसे आज लगभग पूर्ण कर लिया गया है। कलेक्टर भीम सिंह ने पदभार ग्रहण करने के पश्चात कोविड अस्पताल की क्षमता विस्तार के लिये निरंतर प्रयासरत थे। उन्होंने मेडिकल कालेज बिल्डिंग का चयन कर उसमें 100 बिस्तरों की ट्रीटमेंट फेसिलिटी का निर्माण करने के निर्देश स्वास्थ्य, पीडब्लूडी तथा अन्य संबंधित विभागों के अधिकारियों को दिया था।

कलेक्टर भीम सिंह नियमित मेडिकल कालेज का निरीक्षण करने के साथ अस्पताल शीघ्र तैयार करने अधिकारियों को निरंतर निर्देशित कर रहे थे। परिणाम स्वरूप कोरोना मरीज के इलाज के लिए मातृ एवं शिशु चिकित्सालय के 100 बिस्तरों के अतिरिक्त 100 बिस्तर की व्यवस्था मेडिकल कालेज अस्पताल में कर ली गई है। कुछ तकनीकी कार्य शेष है वह भी शीघ्र पूर्ण कर लिये जायेंगे। इसके साथ ही मातृ एवं शिशु चिकित्सालय में डे्रनेज से संबंधित आ रही समस्या का निराकरण भी कर लिया गया है। इस प्रकार रायगढ़ जिला मुख्यालय में कोरोना मरीजों के इलाज हेतु 200 बिस्तरों की सुविधा मिलेगी।

इस अवसर पर कलेक्टर भीम सिंह ने अस्पताल को तैयार करने वाले अधिकारी-कर्मचारी तथा टेक्नीशियन व श्रमिकों की सराहना की। उन्होंने कहा कि सभी ने मेहनत कर इतनी जल्दी 100 बिस्तरों की सुविधा लगभग तैयार कर ली है, जो इस कठिन समय में अत्यंत महत्वपूर्ण है। यह अस्पताल तैयार हो जाने से रायगढ़ के साथ जशपुर जिले के मरीजों का इलाज यहां हो सकेगा। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए यह भी कहा कि आईसीयू को मातृ एवं शिशु चिकित्सालय में ही संचालित किया जाए। इस दौरान सीईओ जिला पंचायत सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी, नगर निगम आयुक्त आशुतोष पाण्डेय, सीएमएचओ डॉ.एस.एन.केशरी, डीन मेडिकल कालेज रायगढ़ डॉ.पी.एम.लुका, ईईपीडब्लूडी आर.के.खांबरा तथा अन्य अधिकारी मौजूद रहे।