एक नई पहल सामाजिक संस्था ने श्रमिकों को नाश्ता पानी कराते हुए आदरपूर्वक चप्पल किया भेंट

बिलासपुर 16 मई। मीलों दूर से नंगे पैर साइकिल या पैदल चल कर बिलासपुर होते हुए झारखंड, मंडला, अम्बिकापुर जाने वाले कई श्रमवीरों के पैरों में छाले पड़ जा रहे हैं। ऐसे में कई मजदूर महिलाएं तो पानी की खाली प्लास्टिक बोतलों को काट कर सुतली या नारियल की रस्सी बांध कर आगे का सफर इस भीषण गर्मी में तय कर रही हैं, जिनके साथ छोटे-छोटे बच्चे भी होते हैं। इस विषम परिस्थितियों को देखते हुए सामाजिक संस्था की “एक नई पहल” ने शुक्रवार को कोनी मोड़ व पेंड्राडीह बायपास जाकर इन श्रमवीर पुरुषों व बच्चों को नास्ते में पोहा के साथ-साथ आदर पूर्वक चप्पल भेंट किया। इस कार्य मे समाज सेवी इंदर गुरबानी, विकास सुल्तानिया, माधव मजूमदार, मनोज सरवानी, केशव बंसल, संगम सोनी व एक नई पहल के संयोजक सतराम जेठमलानी का योगदान रहा।