नाबालिक प्रेमिका ने अपने प्रेमी को उतारा मौत के घाट.. गला दबाया तो प्रेमी हुआ बेहोश.. बेहोशी की हालत में रस्सी से गला घोंटकर दबा दिया और ले ली जान.. केवल एक सवाल बना मौत की वजह ! मौत का सवाल जानकर हैरान हो जाएंगे… पढ़े खबर..!

  • रस्सी से गला घोंट कर मारा, दोस्तों से कही- आत्महत्या कर लिया

कोरबा। प्रेमी अपनी नाबालिग प्रेमिका को किसी अन्य युवक से बात करने से मना किया करता था। यह बात प्रेमिका को नागवार गुजरती थी। वह नहीं चाहती थी कि उसे कोई रोक-टोक करे। प्रेमी रात को उसे एक सूने मकान पर ले गया, जहां इस बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ। प्रेमी नशे की अवस्था में था, इसका फायदा उठाते हुए प्रेमिका ने रस्सी से उसका गला घोंट कर मौत के घाट उतार दिया। अपराध को छिपाने की नीयत से वह रस्सी घर में छिपा दी, लेकिन उसका गुनाह छिप न सका।

छत्तीसगढ़ के कोरबा जिला स्थित करतला क्षेत्र में मिली युवक की संदिग्ध लाश से जुड़े मामले का खुलासा हो गया है। प्रेमी अपनी प्रेमिका से इस बात पर रंज था कि वह दूसरे लड़कों से बात क्यों करती है? प्रेमी के इस सवाल से नाबालिग प्रेमिका नाराज थी। इसके बाद उसने नशे में सोए अपने प्रेमी का गला दबा दिया। प्रेमिका का जब इससे से भी मन नहीं भड़ा तो उसने मौत को सुनिश्चित करने के लिए रस्सी से फिर से गला दबा दिया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद आरोपी प्रेमिका मृतक प्रेमी का मोबाइल और रस्सी अपने घर ले जाकर छिपा दी। पुलिस ने आरोपी नाबालिक प्रेमिका को हिरासत में लेकर बाल सुधार गृह भेज दिया है। पुलिस अधिकारी राहुल देव शर्मा ने बताया कि करतला थाना क्षेत्र के ग्राम सकदुकला नेगीपारा का रहने वाला मंगलराम उर्फ मंगद राठिया 25 जुलाई को ग्राम नोनबिर्रा में अपने दोस्त के घर जन्मदिन की पार्टी में गया था. रात भर घर नहीं लौटा और दूसरे दिन दोस्त श्रवण कुमार प्रजापति ने मंगलराम के मौत की खबर दी।

मृतक के भाई कांता प्रसाद की सूचना पर पुलिस ने ग्राम कलमीटिकरा में श्रवण प्रजापति के खेत-बाड़ी में लगे सोलर प्लेट के पास की झोपड़ी से मंगलराम का शव बरामद किया। घर के बाहर मृतक की मोटरसाइकिल खड़ी थी।

प्रेमिका ने गुनाह कबूल किया
जब मामले की जांच शुरू हुई और मृतक की नाबालिक प्रेमिका को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया. शुरू में वह गुमराह करती रही लेकिन उसका गुनाह सामने आ ही गया। 4 वर्ष से मृतक के साथ प्रेम संबंध रखने वाली नाबालिग की प्रेमी से आखिरी मुलाकात 25 जुलाई की रात करीब 10:30 बजे हुई थी। तब मंगलराम ने अपने साथ एक्सीडेंट होने की सूचना मोबाइल से प्रेमिका को दी थी और दवा लेकर उसके घर की गली में बुलाया था। प्रेमिका के पहुंचने पर मंगतराम मोटरसाइकिल पर बिठाकर श्रवण प्रजापति के बाड़ी में ले गया, जहां दोनों के बीच दूसरे लड़कों से बात करने की बात पर विवाद हुआ। प्रेमिका के खिलाफ अपराध का मामला दर्ज किया गया है।