खरसिया / कुम्हारडीपा में आयोजित हो रही श्रीमद्भागवत कथा के सप्तम दिवस पर श्रीकृष्ण रुकमणी विवाह का हुआ आयोजन..!

खरसिया । ग्राम बिंजकोट के कुम्हारडीपा में चल रही संगीतमय श्रीमद्भागवत कथा का आयोजन बड़ी धूमधाम से किया जा रहा है। यह श्रीमद्भागवत कथा 19 फरवरी शुक्रवार को भव्य कलश यात्रा के साथ शुभारंभ की गई। वहीं 28 फरवरी रविवार को हवन, तुलसी वर्षा सहस्त्रधारा एवं भंडारा के साथ संपन्न होगा।

ग्राम कुम्हारडीपा में चल रही श्रीमद्भागवत कथा का आयोजन समस्त ग्रामवासियों के सहयोग से बड़ी धूमधाम से मनाया जा रहा है वहीं दिनों-दिन श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ती जा रही है। व्यास पीठ पर विराजमान कथा वाचक पंडित कुमार पाण्डेय जी महराज के श्रीमुख से भक्ति की धारा चहुं ओर बह रही है।

श्रीमद्भागवत कथा 26 फरवरी शुक्रवार को कथा के सप्तम दिवस पर श्रीकृष्ण रुकमणी विवाह का आयोजन किया गया वहीं बड़े ही धूमधाम व हर्षोल्लास के साथ श्रीकृष्ण रुकमणी विवाह की झांकी निकालकर महोत्सव मनाया गया। भारी संख्या में पंडाल पर श्रद्धालुजन शामिल हुए। श्रीकृष्ण रुकमणी विवाह की झांकी का श्रद्धालुओं ने पुष्पवर्षा कर स्वागत किया। भागवत कथा के सप्तम दिवस पर कथा स्थल पर रूकमणी विवाह के आयोजन ने श्रद्धालुओं को झूमने पर मजबूर कर दिया। श्रीकृष्ण रुक्मणी की वरमाला पर जमकर फूलों की बरसात हुई। भगवान श्रीकृष्ण रुक्मणी के विवाह की झांकी ने सभी को खूब आनंदित किया।