खरसिया/ किसान विरोधी काले कानून वापस ले केंद्र सरकार व किसानों को समर्थन मूल्य की गारंटी दी जाए- AICS रायगढ़ जिला उपाध्यक्ष राकेश पटेल..!


खरसिया, 18 अक्टूबर। केंद्र सरकार की ओर से लाए गए किसान बिल को लेकर विपक्ष एकजुट हो गए हैं, और सरकार के खिलाफ लगातार आवाज उठा रहे हैं। इसी बीच AICS रायगढ़ जिला उपाध्यक्ष व धरमजयगढ़ सोसल मिडिया प्रभारी (युवा कांग्रेस नेता) राकेश पटेल (भेलवाडीह) ने खुलकर विरोध किया है। AICS जिला उपाध्यक्ष राकेश पटेल ने आलोचना करते हुए कहा कि यह कानून किसानों के पीठ पर छुरा मारने जैसा है, विगत दिनों संसद केंद्र में आसीन मोदी सरकार ने जो तीन कृषि बिल पास किए हैं उसके विरोध में पूरे देश विपक्षी दल तथा किसान पुरजोर विरोध कर रहे हैं। केंद्र सरकार के इस बिल से किसानों में एक भय व्याप्त हुआ है कि फसल खरीद की सरकारी व्यवस्था निजीकरण की भेंट चढ़ जाएगा।

सहसंजोयक सोसल मीडिया युवा कांग्रेस नेता राकेश पटेल ने कहा कि केंद्र सरकार किसानों के हितों में सही फैसले नहीं ले पा रही है। मोदी सरकार की ओर से बनाया गया कानून किसानों के हितों में नहीं है। इस कानून से किसान अपनी फसलों का उचित दाम भी नहीं ले सकेंगें। मंडियों का निजी हाथों में सौंपने की तैयारियां की जा रही है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार किसानों की दशा और दिशा सुधारने की बात कर रही है, लेकिन इस कानून से पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने में लगी हुई हैं। जिसे किसी भी हालत में सहन नहीं किया जाएगा। किसान अपने बकाया भुगतानों को लेकर परेशान है। चीनी मिल मालिक किसानों का उत्पीड़न कर रही हैं। केंद्र सरकार का यह काला कानून किसान विरोधी है,किसान आर्थिक रूप से कमजोर हो चला है। किसानों की दोगुनी आय करने की बात केंद्र सरकार कर रही है, लेकिन काला कानून बनाकर किसानों को बर्बाद करने का काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार से हम मांग करते हैं कि समर्थन मूल्य की गारंटी दी जाए यह मूल्य किसानों के लिए जीवन रक्षक दवा का काम करेगा।