रायगढ़/ 13 दिन बाद हत्या की आशंका पर मासूम की लाश को कब्र से खोदकर निकाला गया ! PM रिपोर्ट में हत्या का हुआ खुलासा ! मासूम बच्ची का मामा ही निकला हत्यारा ! गुटका लाने में देरी हुई तो हैवान मामा ने 07 साल के मासूम को उतार दिया मौत के घाट..! टीआई युवराज तिवारी ने आरोपी को भेजा सलाखों के पीछे..!

  • 7 साल की बच्ची खुशी की हुई थी नृशंस हत्या, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ खुलासा, मृत बच्ची का मामा ही निकला हत्यारा
  • गुटखा लाने में देरी हुई तो मासूम बच्ची को मामा ने सिर पर मारा
  • सिर में गंभीर चोट आने से हुई थी बच्ची की मौत, कोतरा रोड पुलिस ने मामले में दर्ज की हत्या की धारा
  • आरोपी मामा गिरफ्तार, टीआई युवराज तिवारी ने की पुष्टि
  • हत्या की आशंका को लेकर पिता के आग्रह पर बेटी का शव 23 जुलाई को खोदकर निकाला गया था
  • नॉर्मल नहीं थी 7 साल की खुशी की मौत.. सही निकला पिता का शक, हुई थी नृशंस हत्या ! पीएम रिपोर्ट में हुआ खुलासा !

रायगढ़ 25 जुलाई। कोतरारोड थाना क्षेत्र अंतर्गत कृष्णापुर रहवासी प्लांट कर्मी दुकालू दास महंत की 07 साल की बेटी की खुशी की संदिग्ध परिस्थितियों में 10 जुलाई को हुई मौत की गुत्थी अब सुलझ गई है। खुशी के मामा ने ही उसकी हत्या की थी। इस मामले में कोतरा रोड़ पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज करते हुए आरोपी मामा विशालदास महंत को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पिता के आग्रह पर टीआई युवराज तिवारी ने की जांच :

इस संबंध में कोतरा रोड थाना प्रभारी युवराज तिवारी ने बताया कि मामले में बच्चे के पिता को अपनी बेटी की हत्या किए जाने का संदेह था और पिता के आग्रह पर मृत बच्ची की कब्र खोदी गई थी तथा उसकी लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। जिसका पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गया है। जिसमें बच्ची के नाक और सिर में चोट के निशान पाये गये। बच्ची के नाक और सर के हड्डी फैक्चर पाया गया। पोर्टमार्टम रिपोर्ट में नाक की हड्डी टूटने व सिर में चोट लगने से ही मौत का कारण बताया गया है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि होने के बाद आरोपी को किया गिरफ्तार :

पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद मृत बालिका खुशी के मामा आरोपी विशालदास महंत को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी से पूछताछ के बाद टीआई ने बताया कि घटना दिनांक को आरोपी विशालदास काम से वापस आया था और शराब भी पीकर नशे में टुन्न था फिर उसने मासूम बच्ची को राजश्री गुटखा लाने के लिए भेजा था। बच्ची द्वारा गुटखा लाने में थोड़ी देर हो गया तो इतने में आरोपी ने बच्ची को धक्का दे दिया जिससे बच्ची दिवाल से जा टकराई और उसे गंभीर चोट आ गई फिर भी आरोपी का क्रोध शांत नहीं हुआ तो उसने बच्ची के मुंह एवं सिर में मुक्का से वार किया जिससे बच्ची के नाक व सिर की हड्डी टूट गई थी जिससे उसकी मौत हो गई थी।