रायगढ़ / 44 हाथियों ने बर्बाद की खड़ी हुई फसल.. सबसे ज्यादा चिमटापानी में हाथियों का उत्पात.. फिलहाल बस्ती से हैं दूर..!


रायगढ़ / घरघोड़ा और तमनार में 44 हाथियों के तीन अलग-अलग झुंड ने 20 से ज्यादा किसानों की खड़ी फसल पूरी तरह चौपट कर दी है। ग्रामीणों की सूचना पर वन विभाग की टीम ने गुरुवार को मौका निरीक्षण कर फसल नुकसान का आंकलन किया है। विभाग ने किसानों को जल्द से जल्द फसल नुकसान की भरपाई करने की बात कही है। फिलहाल किसान सालभर की मेहनत बर्बाद होने से परेशान हैं। लंबे अंतराल के बाद एक साथ 44 हाथियों का झुंड घरघोड़ा और तमनार पहुंचा है।

यहां चिमटापानी के 12 हाथियों ने रातभर में 12 किसानों की फसल बर्बाद कर दी है। इसी तरह अमलीडीह में 21 किसानों का दल दो दिनों से डटा हुआ है। इस दल में 10 नर, 4 मादा और 7 शावक शामिल है। यह दल क्षेत्र में कटंगडीह धरमजयगढ़ से क्षेत्र में पहुंचा है। दिन में हाथियों का यह दल जंगल में और शाम होते ही धान खाने खेतों में पहुंच रहा है। दल ने चार किसानों के खेत में रात भर उत्पात मचाया है। 4 किसानों की 8 एकड़ फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई है। 11 हाथियों का तीसरा दल तुमीडीह गांव में है। इस दल में 3 नर 6 मादा और 2 शावक मौजूद है। दल शांत होने के कारण अब तक क्षेत्र में किसी तरह की कोई जनहानि नहीं हुई है, लेकिन विभाग के टीम हाथियो के मूवमेंट की लगातार निगरानी कर रही है। आसपास के लिए ग्रामीण इलाकों लगातार मुनादी भी कराई जा रही है, ताकि हाथियों द्वारा क्षेत्र में किसी तरह की कोई जनहानि न हो।