रायगढ़/ निकले महादेव मंदिर में मछली पकड़ने को लेकर हुआ विवाद तो सिरफिरे ने चाकू से पुजारी का गला रेत दिया और एक कि उंगली काट दी.. आरोपी की पुलिस कर रही तलाश.. पढ़े खबर..!

रायगढ़ 01 अगस्त। शहर के भीतर रायगढ़ वासियों के आस्था का तीर्थ माने जाने वाले महादेव मंदिर में आज एक बेहद खौफनाक वारदात हुई है। जानकारी के अनुसार तलाब में मछली पकड़ने की घटना को लेकर एक बापूनगर के एक युवक ने मन्दिर के गूँगे पुजारी को चाकू से गला रेत कर घायल कर दिया। वही इस विवाद में बीच-बचाव करने आए पुजारी के छोटे भाई की उंगली भी आरोपी ने काट दी।

मिली जानकारी के अनुसार धीरज शर्मा पिता रेवती शर्मा 20 वर्ष कुम्हारपारा का रहने वाला है और वह निकले महादेव मंदिर का पुजारी है। मंदिर में धीरज के साथ उसका भाई अभिषेक शर्मा भी पूजा में सहयोग करता है। दोनों भाइयों ने मंदिर के देखरेख करने के लिए भोला शिवम नामक एक युवक को रखा है। शुक्रवार की दोपहर करीब 3:00 बजे बापू नगर निवासी बघीरा जो कि मंदिर परिसर स्थित तालाब में मछली पकड़ता है, उसी दौरान मछली पकड़ने आया था। इस समय मंदिर का दरवाजा बंद था तो आवाज देकर पुजारी धीरज को दरवाजे खोलने के लिए कहा तो पुजारी ने मना कर दिया। पुजारी के दरवाजा खुलने पर मना करने के कारण आरोपी बघीरा भड़क गया और पूजारी के साथ गाली गलौज करने लगा। तभी वहां धीरज का भाई अभिषेक शर्मा भी आ गया। आरोपी बघीरा उसके साथ भी गाली गलौज करते हुए दरवाजा फांद कर मंदिर के अंदर घुस गया और दोनों भाइयों के साथ धक्का-मुक्की कर मारपीट शुरू कर दी।

इसी बीच आरोपी बघीरा अचानक गुस्से से आगबबूला होते हुए अपने पास रखें चाकू निकाल कर आने लहराने इस कारण जो अभिषेक के दाहिने उंगली पर लगी और उसकी उंगली कट गई। उसी बीच भोला भी पहुंच गया तो आरोपी ने बिना कुछ कहे जान से मारने की नियत से धारदार चाकू से भोला का गला रेत दिया जिससे बोला रक्तरंजित हालत में वही अचेत होकर गिर पड़ा।

पुलिस हमलावर की तलाश कर रही हैं

इस संबंध में कोतवाली थाना प्रभारी एस एन सिंह ने घटना की रिपोर्ट अपराध दर्ज कर हमलावर के खिलाफ  धारा 307, 506, 323ब 294 के तहत अपराध दर्ज कर हमलावर की खोजबीन में पुलिस जुटी हुयी है ।

कलेक्टर से उम्मीद

इस घटना के बाद लोगों ने एक बार फिर से तलाब की साफ सफायी और मछलियों को संरक्षण दिये जाने की अपेक्षा जिला प्रशासन से हैं कलेक्टर भीम सिंह से उम्मीद कि जा रही हैं कि वे जयसिंह तलाब की भी सुधी लेगे और मछली पालन को बढावा देने तलाब को सरंक्षित कर इसके आखेट को रोकने कारगर कदम उठायेंगें ।