रायगढ़/ जिले में बढ़ते कोरोना पॉजिटिव मरीज की संख्या एक गंभीर समस्या ! संक्रमित मरीज भी निभाए अपनी जिम्मेदारी, संपर्क में आए लोगों की खुद दे जानकारी..!

रायगढ़ 26 जुलाई। स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए लोगों से कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग टीम को अपने संपर्क में आए सभी लोगों की पूरी जानकारी उपलब्ध कराने की अपील की है। संक्रमितों द्वारा सटीक और पूरी जानकारी दिए जाने से संपर्क में आए लोगों को तेजी से ढूंढा जा सकता है और उनके स्वास्थ्य की निगरानी की जा सकती है। विभाग ने कहा है कि रायगढ़ जिले में कोविड-19 के तेजी से बढ़ते मामलों पर नियंत्रण के लिए सभी का सहयोग आवश्यक है।

शासन के प्रयासों के साथ जनता का सहयोग जरूरी:

कोविड-19 पर नियंत्रण के लिए शासन के प्रयासों के साथ ही आम लोगों द्वारा व्यक्तिगत एवं सामुदायिक स्तर पर सहयोग जरूरी है। जांच के बाद कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने पर ऐसे व्यक्ति पिछले 14 दिनों में अपने संपर्क में आए लोगों की जानकारी कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग अधिकारी को स्वतः समक्ष में या फोन पर दें। नियमित सीधे संपर्क में आने वाले ज्यादा जोखिम वाले लोगों और थोड़े समय के लिए कभी-कभार संपर्क वाले कम जोखिम वालों के नाम, मोबाइल नंबर एवं पता की जानकारी संबंधित अधिकारी को तत्काल दें। इससे उन्हें अतिशीघ्र चिन्हांकित कर जरूरत के मुताबिक आइसोलेशन या क्वारेंटाइन में रखा जा सकेगा।

सक्रिय मरीजों के सहयोग से कोरोना से काबू पाने में मिलेगी मदद :

कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के लिए स्वास्थ्य विभाग, जिला प्रशासन, पुलिस, नगरीय प्रशासन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, उच्च शिक्षा, स्कूली शिक्षा, महिला एवं बाल विकास विकास सहित कई अन्य विभाग तथा गैर सरकारी व स्वयं सेवी संगठनों के अधिकारी-कर्मचारी लगे हुए हैं। कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग में पीड़ितों के सक्रिय सहयोग से संक्रमण पर काबू पाने में काफी मदद मिलेगी। साथ ही उनके सैंपल कलेक्शन एवं जांच की व्यवस्था की जा सकेगी। इस तरह त्वरित रूप से उठाए गए कदमों से आगे संक्रमण की संभावना को खत्म किया जा सकेगा। कान्टैक्ट ट्रेसिंग में लगे स्वास्थ्य विभाग एवं जिला प्रशासन को प्रभावितों की सक्रिय सहभागिता से कान्टैक्ट ट्रेसिंग में होने वाली देरी को रोका जा सकता है। इससे वायरस का प्रसार रोकने में बड़ी मदद मिलेगी।

CHMO ने भी की अपील :

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर एस एन केसरी ने भी अपील की है कि सभी सक्रिय मरीज अपनी अपनी सामुदायिक सहभागिता निभाते हुए कोविड-19 के नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए राज्य और केंद्र शासन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का गंभीरता से पालन करें। अति आवश्यक होने पर ही घर से निकलें। कान्टैक्ट ट्रेसिंग में सक्रिय सहयोग कर प्रभावितों की पहचान में शासन-प्रशासन की मदद करें।