बेमौसम बरसात के चलते फसल खराब होने पर रायगढ़ जिले के किसान मुआवजा की कर रहें हैं मांग .. मांग पूरी करने हेतू करीब 20 से अधिक किसानों ने कलेक्टर को दिया आवेदन..!


रायगढ़, 16 अक्टूबर। जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में हुई भारी बारिश से किसानों के चेहरे पर चिंता की लकीर खींच दी है। तेज बारिश की वजह से खेतों में खड़ी फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है. फसल लगभग पकने की कगार पर आ गई थी, इसलिए जो फसल गिर गए हैं वह पूरी तरह से सड़कर खराब हो गए हैं. फसल नुकसान के आकलन के लिए और बीमा क्लेम के लिए पटवारी भी मौके पर नहीं पहुंच रहे हैं।

इस मुश्किल स्थिति में 20 से अधिक किसानों ने कलेक्टर दफ्तर पहुंचकर इस संबंध में कलेक्टर को आवेदन दिया है और अपनी परेशानियों से अवगत कराया है। बीते सप्ताह से रुक-रुक कर जिले भर में बारिश हो रही है, जिससे रायगढ़ और पुसौर ब्लाक के दर्जनों गांवों की फसल खराब हो गई है। इससे किसानों को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है।

सरकारी मुआवजा और फसल बीमा से आस

फसल खराब होने से अब उन्हें सरकारी मुआवजा और फसल बीमा की क्लेम से मिलने वाली राशि का ही सहारा नजर आ रहा है। प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारियों के ध्यान नहीं देने पर किसान कलेक्ट्रेट पहुंचकर अपनी समस्या बता रहे हैं। किसान लक्ष्मी नारायण पटेल ने बताया कि 10 एकड़ का फसल बेमौसम बरसात के भेंट चढ़ गया। इसी तरह अन्य किसानों के फसल भी खराब हुए हैं।

सर्वे के बाद दिया जाएगा मुआवजा

कृषि विभाग के अधिकारी का कहना है कि किसानों के द्वारा तहसील कार्यालय में आवेदन दिए जाने पर क्षतिपूर्ति के लिए सर्वे कराया जाएगा और फसल के नुकसान के आधार पर किसानों को फसल बीमा के तहत मुआवजा दिया जाएगा।