बीती रात सड़क दुघर्टना का शिकार..! अज्ञात वाहन के चपेट में आने से युवक की दर्दनाक मौत..! परिवार का मुखिया बेमौत मारा गया..! खूनी पहियों ने छीन लिया परिवार से पिता का साया..! परिवार में पत्नी और दो मासूम छोटे बच्चे..! रो-रो कर बुरा हाल..! पढ़े पूरी खबर..!


रायगढ़। परिवार का मुखिया व लालन- पालन करने वाला युवक बीती रात सड़क दुर्घटना का शिकार हो गया और बेमौत मारा गया। पीड़ित परिवार में मृतक घर चलाने वाला अकेला था। परिवार में पत्नी और दो छोटे-छोटे बच्चे हैं। जिनका अब मां के अलावा कोई नहीं रहा। परिवार से पिता का साया खूनी पहियों ने छीन लिया।

परिवार का पालन पोषण कैसा होगा..? किस तरह परिवार चलेगी यह सोचनीय विषय है। मृतक के परिवार में परिवार का लालन पालन करने वाला वह अकेला था। अब उसके चले जाने के बाद परिवार अकेला सा हो गया है। मां के अलावा और इनके बीच अब कोई नहीं रहा।

मृतक का परिवार

पूरा मामला पुसौर थाना क्षेत्र का है। जहां केनसरा निवासी लीलाधर साहू कल पेंटिंग का काम का पैसा लेने के लिए बिलाईगढ़ डोंगरिपाली गया हुआ था और पैसा लेकर वापस अपना गांव आ रहा था। तभी रात करीबन 8 और 9 बजे बीच चिखली और तेतला के आसपास अज्ञात वाहन की चपेट में आने से घटनास्थल पर ही युवक की दर्दनाक मौत हो गई। घटना की सूचना मिलने पर पुसौर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को उठा कर पोस्टमार्टम के लिए पहले पुसौर भेजा गया उसके बाद रायगढ़ भेज दिया गया।

मृतक और उसके बच्चे

घटना के बाद परिवार में मातम पसर गया है पत्नी का रो रो कर बुरा हाल है तो छोटे-छोटे नादान बच्चे अभी नासमझ हैं . जिन्हें अभी घटना के बारे में पता है परंतु हुआ क्या यह खुद मालूम नहीं। बच्चों को क्या पता कि अब उनके परिवार का पालन पोषण करने वाला पिता का साया उनसे उठ चुका है खूनी पहियों ने उनके पिता का जान ले लिया है..? परिवार को संभालने वाला अब घर में नहीं रहा अब तो छोटे-छोटे बच्चों का पालन पोषण मां के अलावा कौन करेगा यह पता नहीं.?

अभी तक नहीं मिली मुआवजा राशि

मृतक परिवार के परिजन मृतक के बडशारा नारायण साहू ने बताया कि अभी तक मृतक परिवार को मुआवजा राशि नहीं मिली है। अभी तक शव को घर नहीं लाया गया है। गांव के सदस्य व सरपंच रायगढ़ गए हुए हैं परंतु अभी तक वापस नहीं आए हैं।

ट्रिप के चक्कर मे जा रही जान

परिजनों ने आरोप लगाया है कि इस मार्ग में आए दिन सड़क दुर्घटनाएं घटित होती रहती है। मार्गों पर चल रहे बड़ी-बड़ी वाहनों ट्रिप के चक्कर में लोगों की जान से खेल जाते हैं और लोग बाग ट्रेलर ट्रक डंपर की चपेट में आकर जान गवा रहे हैं । परिजन ने बताया कि इस क्षेत्र में अंधाधुन गाड़ियों की रफ्तार रहती है। ट्रिप लगाने के चक्कर में आए दिन सड़क दुर्घटना सामने आ रहे हैं।