नवंबर, दिसंबर और जनवरी में पड़ेगी कड़ाके की ठंड, महीने के पहले सप्ताह में ही तापमान 4 डिग्री तक गिरा, सुबह मार्निंग वॉक पर निकले लोग व एक्सरसाइज करता युवा..!


रायगढ़ / गर्मी और बारिश की तरह अब सर्दी का पैटर्न भी बदल गया है। बीते 5 सालों से हल्की ठंड महसूस कराने वाला अक्टूबर इस बार गर्म रहा। माह के आखिरी 4 दिनों में को छोड़ दे तो इससे पहले दिन और रात का तापमान अधिक रहा। इसके पीछे मौसम विशेषज्ञ, जिले में कार्बन उत्सर्जन, प्लास्टिक इस्तेमाल व लगातार घट रहे जंगल को कारण बता रहे हैं। पर्यावरण विभाग के विशेषज्ञ की भी राय यही है।

इसके चलते पिछले 5 सालों में मानसून की देरी से विदाई की वजह से मानसून 5 महीने तक सक्रिय रहने लगा है। मार्च से जून तक गर्मी भी रहती है, 12 में से 9 महीने तक सिर्फ गर्मी और बारिश का मौसम होता है। ठंड अक्टूबर दूसरे सप्ताह की बजाए नंवबर से पड़ने लगी है। फिलहाल नंवबर के पहले सप्ताह हवा की दिशा उत्तर होने के बाद तापमान 4 डिग्री तक कम हो गया है। शनिवार को रात में न्यूनतम 12 डिग्री रहा, वहीं दिन का तापमान 31 डिग्री सेल्सियस रहा।

10 और 11 को दिशा परिवर्तन इसलिए ठंड कम..!

10 और 11 नवंबर तक दवा की दिशा में परिवर्तन का अनुमान मौसम विशेषज्ञ लगा रहे हैं। उनके अनुसार अभी हवा की दिशा उत्तर-पूर्व है। सर्द हवा की मात्रा अधिक है, लेकिन 10 नंवबर को परिवर्तन के बाद यह पूर्वी होने के बाद तापमान में एक से डेढ़ डिग्री तक बढ़ोतरी की संभावना है।

जुलाई और अगस्त की बजाय सितंबर में ज्यादा हुई बारिश..!

मौसम विभाग के विशेषज्ञों ने बताया कि बीते कुछ सालों में बारिश एक या दो दिन के लिए मूसलधार होती है। 5 से 7 इंच तक पानी गिर जाता है, फिर थम जाती है। इस बार जिले में 24 घंटे में सबसे ज्यादा बारिश अगस्त के आखिर में हुई थी। 6 इंच तक पानी गिरा, फिर उसके बाद 6 दिनों का अंतराल के बाद बारिश हुई। इसका कारण बंगाल की खाड़ी, अरब सागर में बारिश के दौरान सतत नमी नहीं आना है।

इस बार ठंड में कोल्ड डे ज्यादा होने की है संभावना : चंद्रा..!

मौसम विशेषज्ञ डॉ एचपी चंद्रा बताते है कि ला नीना से ठंड और बारिश का अंदाज लगता है। इस बार इंडोनेशिया तरफ ला नीना का असर रहा। इस वजह से भी बारिश औसत से अधिक रही। ला नीना से पश्चिमी विक्षोभ कम बनेंगे। नवंबर में इसका असर दिखना शुरू हो जाएगा। दिसंबर के आखिर और जनवरी में कोल्ड डे, सीवियर कोल्ड डे रहेंगे।

जानिए कोल्ड डे और सीवियर कोल्ड का फार्मूला..!

मौसम विभाग के अनुसार जब दिन का तापमान सामान्य से 4.5 डिग्री और रात का तापमान 10 डिग्री से कम हो तो कोल्ड-डे कहलाता है। जब दिन का तापमान सामान्य से 6.5 डिग्री से और रात का तापमान 10 डिग्री से कम हो तो सीवियर कोल्ड-डे माना जाता है।