डामरीकरण कार्य के टेंडर को निरस्त करें, कमीशन का खेल बंद करें – मनीष गांधी


रायगढ 28 अक्टूबर। रायगढ़ नगर निगम क्षेत्र के मुख्य मार्ग को लेकर पिछले लम्बे समय से आम जनता को काफी परेशानी उठानी पड रहा है। वही दुसरी ओर नगर निगम पैसे को लेकर रोना रोती रही है। पैसे की कमी को पूरा करने के लिए रायगढ निगम द्वारा इन दिनो पुरे शहर से छोटे बड़े सभी दुकान दारो से साल भर का युजर्स चार्ज के नाम से जबरन वसूली कर रही है ।

वही दूसरी ओर 2 करोड़ 40 लाख रूपये से शहर में रोड के डामरीकरण का कार्य होना है जिसके लिए लगभग एक दो माह पहले शहर की सड़कों में डामरीकरण के लिये टैन्डर बुलाया गया था ।

जो तय दर से 2.5% कम दर भर के ठेकेदारो के द्वारा लिया गया। पर नगर निगम के एमआईसी ने यह कहकर खारिज कर दिया की 2. 5% से और कम में यह कार्य हो सकता है। इतने कम में काम देने से निगम को नुकसान होग। फिर यह कार्य कुछ समय के लिए रोक दिया गया। अपने चहेते ठेकेदार को इस कार्य को देने के लिए अनुबंध मे थोड़ा सुधार कर दिया और यह शर्त रखा गया की शहरी क्षेत्र मे होने वाले डामरीकरण का कार्य उसे दिया जाये जिसका डामरप्लान्ट शहर के 40 किलोमीटर के दायरे मे आता हो ।

इस तरह शर्तो के साथ अपने चहिते ठेकेदार को 3.5% व 4% की दर पर यह कार्य एमआईसी द्वारा पारित कर दिया गया । अगर बिना शर्तो के नगर निगम फिर से खुली निविदा मंगवाती तो अन्य ठेकेदारो के द्वारा और अधिक कम दर मे यही कार्य हो सकता था। जिससे निगम के पास ओर पैसे बचते ।

प्रश्न यह उठता की यह सारा खेल कुछ कमीशन के लिये तो नही खेला जा रहा है ? इस तरह से किसी को लाभ पहुंचाने की कोशिश करना भ्रष्टाचार ही माना जाएगा।

मैं इस तरह दिये गये ठेके का पुरजोर विरोध दर्ज करता हू। आयुक्त महोदय,महापौर,व सभापति, से यह मांग करता हू की इस तरह दिये गये ठेके को तत्काल प्रभाव से निरस्त कर।पारदर्शी के साथ फिर से नया टेन्डर जारी किया जाए।

मनीष गांधी सांसद प्रतिनिधि नगर पालिक निगम रायगढ़