आजाद किसान सेना, रायगढ़ के साथीयों ने छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस अन्नदान के रूप में मनाया..!


रायगढ़, 03 नवंबर। स्वतंत्र गैर राजनीतिक संगठन “आजाद किसान सेना रायगढ़” के किसानों एवं रायगढ़ ब्लड डोनर समूह द्वारा “धान का कटोरा” छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस 1 नवंबर को “अन्नदान-अभियान” के रूप में मनाया गया। छत्तीसगढ़ की पहचान “धान का कटोरा” के रूप में है अत: रायगढ़ के किसानों का यह सोच कि क्यों ना राज्य स्थापना दिवस को छत्तीसगढ़ के पहचान के रुप में मनाया जाय एक सराहनीय पहल है।


दान किसी भी चीज, वस्तु या रकम का हो सुपात्रों के लिए होना चाहिए। दीन-दुखी पीड़ित बेघर अनाथों उपेक्षित लोगों की सेवा सहयोग ही सच्ची-मानवता है। इसी सोच अवधारणा को साकार करने की एक छोटी सी पहल प्रयास किया क्षेत्र के अन्नदाता किसानों ने !

आजाद किसान सेना रायगढ़ के किसान-सिपाही प्रमोद कुमार चौधरी ने बताया कि रायगढ़ जिले के बहुत से किसानों तथा जांजगीर-चांपा एवं उड़ीसा के किसानों ने स्वेच्छा से चावल,फल इकठ्ठा किया उक्त एकत्रित चावल एवं फल को रायगढ़ में स्थित विभिन्न अनाथालयों चक्रधर बालिका गृह हंड्डी चौक,रिहेब फाउंडेशन रामपुर, वृद्धाआश्रम पहाड़ मंदिर, बाल गृह पहाड़ मंदिर, नेत्रहीन मूक-बधिर आश्रम बाबाधाम रायगढ़ में अन्नदान एवं फलदान किया।


विभिन्न अनाथालयों में निवासरत लोगों के प्रेम अपनापन आर्शीवाद तथा अपेक्षा से परिपूर्ण आंखों से किसानों को अन्नदान जैसे पुनीत कार्य से अपार हर्ष हुआ तथा हर वर्ष छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस के अवसर पर अन्नदान-अभियान को और बड़े-स्तर पर व्यापक-रूप में करने का संकल्प लिया !


उक्त अन्नदान अभियान में आजाद किसान सेना रायगढ़ के प्रमुख फत्तेचंद पटेल , बसंत पटेल , प्रमोद कुमार चौधरी , हेमसागर पटेल , ब्रम्हचारी (उड़ीसा) तथा रायगढ़ ब्लड डोनर्स के रक्तवीर आशीष शर्मा, पीयूष चौबल, संजीव यादव आदि साथियों ने भाग लिया !