लूटपाट के 6 मामलों का पुलिस ने किया खुलासा तीन किशोर सहित 15 लोग किए गए गिरफ्तार.. सरकंडा, कोनी, तारबाहर व बिल्हा क्षेत्र में हुई थी वारदात, बाइक रुपए जब्त..!


बिलासपुर / सरकंडा पुलिस को एक बड़ी सफलता मिली है। अलग-अलग थाना क्षेत्रों में लूटपाट करने वाले लुटेरों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने लूट के 6 मामलों का खुलासा किया गया। इनमें 3 नाबालिग सहित 15 पुलिस के हत्थे चढ़े हैं। आरोपियों के पास से मोबाइल, बाइक व रुपए पैसे सहित 2 लाख 15 हजार रुपए जब्त किया गया है।

सीएसपी निमिषा पांडेय के अनुसार 6 में से 3 मामले सरकंडा थाना क्षेत्र की है। वहीं शेष तीन कोनी, बिल्हा और तारबाहर थाना क्षेत्र की है।

24 अगस्त को रेलवे स्टेशन से ड्यूटी कर घर जा रहे रेलकर्मी को तोरवा पुल के पास पत्थर मारकर घायल कर दिया था और बाइक मोबाइल व अन्य सामान लूटकर भाग निकले थे। पुलिस ने इस मामले में सनी मरकाम,,पीताम्बर रजक,नानू उर्फ ओम प्रकाश, कृष्णा निषाद को गिरफ्तार किया। उनसे लूट के मोबाइल एवं बाइक मिली। आरोपी तोरवा देवरीडीह के हैं।

टीआई जेपी गुप्ता के अनुसार दूसरी घटना भी सरकंडा क्षेत्र के चांटीडीह की है। 11 नवंबर को लुटेरों ने चाकू दिखाकर सब्जी खरीदने बाजार आए युवक की जेब से 1 हजार छीन लिए थे। इस मामले में आरोपी इमरान खान उर्फ यम्मु व सरफरोज को गिरफ्तार किया है। उनसे चाकू व 1 हजार मिला है।

तीसरी घटना में अशोकनगर रोड पर पिस्टल दिखाकर छात्र का मोबाइल लूटने की हुई थी। पुलिस ने इस मामले में दो नाबालिग और तालापारा के लोकेश प्रजापति को गिरफ्तार किया। उनके पास से पिस्टल की शक्ल वाला लाइटर बरामद हुआ। इसे दिखाकर लूटपाट की थी।

चौथी घटना कोनी में शराब दुकान के सेल्समैन से लूटपाट की है। इसमें पुलिस ने 3 को गिरफ्तार किया। इनके पास से 20 हजार रुपए व लूट की मोबाइल को जब्त किया। एक अन्य घटना बिल्हा में हुई थी। यहां से मोबाइल लूटा गया था। इसमें एक आरोपी को पकड़ा गया है।

इसी तरह की घटना तारबाहर क्षेत्र में हुई थी। इसमें एक नेपाली व एक बालिका आरोपियों को पूर्व में गिरफ्तार किया जा चुका है।

पुलिस टीम ने लूट के 6 मामलों में 15 आरोपियों को गिरफ्तार किया। पुलिस ने इनसे करीब 2 लाख 15000 रुपए का माल बरामद किया।