कर्ज की वसूली करने आए साहूकार की हत्या कर घर के पीछे ही लाश को दफनाया, हत्यारा गिरप्तार अब कब्र खोदकर लाश को बाहर निकालने की तैयारी…!


बिलासपुर। ग्राम धौरामुड़ा में हुए क़त्ल में आखिरकार ग्रामीणों का शक ही सही साबित हुआ। आपको याद होगा कि एक दिन पहले गांव के एक घर से उठ रही तेज बदबू के बाद ग्रामीणों ने शक में पकड़ कर एक बुजुर्ग को रतनपुर पुलिस के हवाले किया था। उन्हें शक था कि आइतराम नामक व्यक्ति ने किसी की हत्या कर उसके शव को अपनी बाड़ी में गाड़ दिया था क्योंकि तेज बदबू के अलावा उसके ऊपर चील कौवे उड़ रहे थे और कुत्ते भी आसपास भटक रहे थे । थाने पहुंचकर आइतराम ने भी चौंकाने वाला खुलासा किया था। उसने कहा था कि उसने गांव टेकर में रहने वाले सत्तू वर्मा की हत्या 21 मार्च को कर दी थी और उसकी लाश को बांध में बहा दिया था लेकिन पुलिस पूछताछ में यह पता चला कि वह पुलिस को झूठ बोल रहा था। असल में उसकी आधी कहानी सच और आधी झूठ निकली । उसने सत्तू वर्मा की हत्या तो जरूर की थी लेकिन उसके शव को बांध में नहीं फेंका था बल्कि स्वयं गड्ढा खोदकर अपने ही घर के पीछे मौजूद बगीचे में दफना दिया था। बताया जा रहा है कि सत्तू वर्मा ने सीताराम को ₹10,000 उधार दिया था जिसके बदले में आईत राम का मकान भी गिरवी था।

वह स्थान जहां दफनायी गई है लाश  21 मार्च को शराब पीकर सत्तू वर्मा उसके पास पहुंचा था और वह वसूली के लिए उसे परेशान कर रहा था। तंग आकर आइत राम ने उसके सर पर दो लाठी दे मारी और फिर अपने ही घर के पीछे बाड़ी में गड्ढा खोदकर उसे दफना दिया । आरोपी के इकबालिया बयान के बाद अब उसे लेकर रतनपुर और सीपत पुलिस मौका ए वारदात पर पहुंच चुकी है लेकिन शव को खोदकर निकालने से पहले तहसीलदार की अनुमति आवश्यक है, जिसकी प्रतीक्षा की जा रही है ।

दिखने में सीधा-साधा और मासूम सा लगने वाले हेतराम 7 महीनों से अपने ही घर के पीछे गड़ाए गए शव के साथ रह रहा था और उसने मन ही मन एक कहानी भी गढ़ ली थी, लेकिन वह इसके बाद भी अपने अपराध को छुपा ना पाया। लाश से उठ रही बदबू ने इसकी चुगली कर दी ।आसपास के ग्रामीणों की सतर्कता से ही इस मामले का खुलासा हुआ है नहीं तो सत्तू वर्मा के परिजन तो यही समझ रहे थे कि सत्तू वर्मा कहीं लापता हो गया है और पुलिस भी गुमशुदगी का मामला दर्ज कर बैठ गई थी। इस चौका देने वाले खुलासे में रोज नई-नई परतें सामने आ रही है। फिलहाल पुलिस चिन्हित स्थान से शव को बरामद करने की कोशिश कर रही है जिसके बाद ही आगे की कार्यवाही हो पाएगी।