अंतरराष्ट्रीय वृद्धजन दिवस के अवसर पर जेल से छूटे बंदी को घर पहुचाया गया..!


बिलासपुर।अंतरराष्ट्रीय वृद्धजन दिवस के अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बिलासपुर के पैरालीगल वालंटियर महेंद्र गुप्ता द्वारा *जेल से छूटे बंदी को केंद्रीय जेल बिलासपुर से ग्राम- दग्बिरा, लैलूंगा, रायगढ़ तक घर पहुचाया गया.* जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बिलासपुर के सचिव ब्रिजेश राय के निर्देशानुसार पैरालीगल वालंटियर महेंद्र गुप्ता को

बताया गया कि जेल से छूटे मोहन कुमार (बदला हुआ नाम) को इस कोरोना काल को देखते हुए घर जाने की व्यवस्था की जानी है तो पैरालीगल वालंटियर महेंद्र गुप्ता द्वारा तुरंत ही केंद्रीय जेल बिलासपुर से संपर्क कर उस रिहा हुए बंदी से मिलकर जेल कर्मचारी कृष्णा मिश्रा व अशोक वैष्णव के साथ मिल कर उसे बिलासपुर रेलवे स्टेशन ले जाया गया लेकिन उस दिन टिकट कन्फर्म नही हो पाने के कारण उसे फिर से एक दिन रहने की व्यवस्था की गई फिर पैरालीगल वालंटियर महेंद्र गुप्ता द्वारा *ऑनलाइन टिकेट बुक* किया गया तो उनको *2 अक्टूबर गाँधी जयंती के अवसर* पर घर जाने की व्यवस्था किया गया साथ ही उनको महात्मा गाँधी के आदर्शो के बारे में बताया गया और अभी चल रहे कोरोना से बचाव के बारे में बताया गया उनको *निःशुल्क सेनेटाइजर, मास्क, फल, कुछ कपड़े* प्रदान किया गया. साथ ही रोजगार सृजन के बारे में बताया गया..

जिसके यहाँ जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बिलासपुर

पैरालीगल वालंटियर महेंद्र गुप्ता, मोहिनी कुमारी एवं ऐड सेण्टर 2.0 (निःशुल्क सहायता केंद्र) के सदस्य प्रवीण पाण्डेय, देवेन्द्र कश्यप की महत्वपूर्ण योगदान रहा*