24X7 Breking: छत्तीसगढ़ में कोरोना वाला गुरुवार, आंकड़े देखकर आप हिल जाएंगे।

रायपुर 30 जुलाई 2020:- छत्तीसगढ़ में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के बीच गुरुवार सुबह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जनता को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि अनलॉक में बरती गई लापरवाही से संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। इसके चलते ही लॉकडाउन लगाना पड़ा है। आप लोग लॉकडाउन को गंभीरता से लें। नियमों का पालन नहीं करेंगे तो लॉकडाउन की स्थिति में भी बचा नहीं जा सकता है।

छत्तीसगढ़ में रिकवरी दर अच्छी है, लेकिन गंभीरता से लेने का समय

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा, छत्तीसगढ़ में कोरोना से रिकवरी की दर अच्छी है। मौतों का आंकड़ा भी अन्य राज्यों की अपेक्षा कम है, लेकिन ये हमारे लिए और आपके लिए गंभीरता से लेने का समय है। उन्होंने कहा, स्वास्थ्यकर्मी, डॉक्टर, पुलिस सब आपके बचाव में लगे हैं, लेकिन आप ही नियमों का पालन नहीं करेंगे तो संक्रमण बढ़ेगा।

उन्होंने कहा, बकरीद और रक्षाबंधन का पर्व है। इसे अपने परिवार के साथ मनाए। ये कोरोना से बचाव के लिए बेहद जरूरी है। आप अपना सामाजिक दायित्व निभाइये। इसके लिए भीड़भाड़ से बचना होगा। मास्क लगाएं, सोशल डिस्टेंसिंग बनाएं, नियमों का पालन करेंगे तभी बच सकते हैं, नहीं तो स्थिति और भी ज्यादा बिगड़ेगी।

सैंपल जांच 10 हजार करने का लक्ष्य, स्वास्थ्यकर्मियों को रोक रहे लोग

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा, ऐसी जानकारी भी आई है कि सैंपल लेने जा रहे स्वास्थ्यकर्मियों को लोग रोक रहे हैं। ये सब आपके लिए है। आप उनका सहयोग करें। उन्होंने कहा, प्रदेश में अभी 5000 से अधिक सैंपलों की जांच हो रही है। इसे 10 हजार तक बढ़ाने का लक्ष्य है। कोरोना से उपचार के लिए 8 क्षेत्रीय और 22 जिला स्तरीय कोविड अस्पताल काम कर रहे हैं। अफसरों को ऑक्सीमीटर उपलब्ध कराने को कहा गया है।

अब तक 8600 संक्रमित, फिर भी सड़कों पर भीड़ और लापरवाही

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। सरकार ने इसे देखते हुए 6 अगस्त तक दो चरणों में लॉकडाउन लगाया है। फिर भी सड़कों पर लापरवाही की भीड़ है। इसके चलते पहले चरण यानी कि 23 जुलाई से 29 जुलाई के बीच 7 दिनों में संक्रमण के 2230 मामले आए हैं। जबकि 16 मरीजों की मौत हो चुकी है।

रायपुर में हर दिन बढ़े 150 मरीज
प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 8600 पहुंच गई है। इसमें से एक्टिव केस 2914 हैं, जबकि 50 मरीजों की मौत हो चुकी है। वहीं हॉट स्पॉट बने रायपुर में हर दिन 150 से ज्यादा पॉजिटिव सामने आ रहे हैं। लॉकडाउन के 7 दिनों में ही 1052 केस आए हैं, 8 मरीजों की मौत हुई है। रायपुर में 2659 संक्रमित मिले हैं। इनमें से 22 की मौत हो चुकी है। वहीं एक्टिव केस 1407 हैं।

सात दिनों में (23 जुलाई से 29 जुलाई तक ऐसे बढ़े मरीज)

पुलिस को देखा तो चेहरे पर, नहीं तो गले में लटकता है मास्क
सरकार की ओर से त्यौहारों को देखते हुए दो दिन की छूट दी गई, लेकिन पहले ही दिन बुधवार को लोगों ने नियमों की धज्जियां उड़ा दीं। यही हाल दूसरे दिन गुरुवार को भी है। खरीदारी करने निकले बहुत से लोगों के पास मास्क तो है, लेकिन वह गले में लटका रहता है। सोशल डिस्टेंसिंग लोग भूल गए हैं। बाजारों व सड़कों पर जाम जैसी स्थिति है।

बिलासपुर, अंबिकापुर व राजनांदगांव में भी होंगे टेस्ट
कोविड-19 के आरटीपीसीआर टेस्ट अब बिलासपुर, राजनांदगांव और अंबिकापुर में भी होंगे। इसे लेकर एम्स ने अनुमति प्रदान कर दी है। तीनों जिलों के मेडिकल कॉलेज की लैब में टेस्ट होंगे। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव इसकी कवायद में लंबे समय से लगे हुए थे। उन्होंने कहा, टेस्ट के संसाधन बढ़ेंगे तो हम और टेस्ट कर पाएंगे। साथ ही रिपोर्ट के लिए पहले से कम समय लगेगा।