03 शातिर ठग रायगढ़ पुलिस की गिरफ्त में.. जाने कैसे चढ़े पुलिस के हत्थे ?

● प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ दिलाने ग्रामीणों से किए धोखाधड़ी

● ठगो के निशाने पर थे भूमिहीन किसान, 03 आरोपी गिरफ्तार

● करीब 300 ग्रामीण ठगे जा चुके थे, आरोपियों द्वारा सारंगढ़ के नौजवानों को बनाया जा रहा था एजेंट

रायगढ़ 28 जुलाई 2020:- आज दिनांक 27.07.2020 को थाना सारंगढ़ क्षेत्र में भोले-भाले भूमिहीन किसानों को ठगी का शिकार बना रहे लोकल गिरोह के तीन सदस्यों को सारंगढ़ पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया है। सारंगढ़ पुलिस यदि इन पर लगाम नहीं लगाती तो न जाने कितनों को ये लोग आगे अपना शिकार बनाते। जानकारी के मुताबिक सारंगढ़ अन्तर्गत ग्राम दुर्गापाली में रहने वाला कृष्णा साहू पिता रामरतन साहू उम्र 18 वर्ष दिनांक 26.07.2020 को थाना सारंगढ़ में गांव के शौकीलाल सतनामी के विरूद्ध प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत रूपये दिलाने का झांसा देकर ठगी किये जाने के संबंध में आवेदन पत्र दिया गया, जिस पर आरोपी शौकीलाल पिता एकादशिया सतनामी उम्र 50 वर्ष ग्राम दुर्गापाली थाना सारंगढ़ के विरूद्ध अप.क्र. 505/2020 धारा 420 IPC पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। शिकायतकर्ता ने बताया कि गांव का शौकीलाल सतनामी गांव में इसे बताया कि तुम्हारे परिवार में जितने सदस्य हैं उन सबकी मैं प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत हर तीन माह में 2000-2000 रूपये का किस्त दिलवाऊंगा। यह कहकर उसने कृष्णा साहू तथा उसके पिता रामरतन, माता सावित्री, बड़ी बहन पुष्प का आधार कार्ड, बैंक पासबुक की फोटो कापी लेकर एक-एक हजार रूपये ले लिया। कृष्णा साहू को शौकीलाल पर शंका हुआ तो तहसील कार्यालय सारंगढ जाकर पता किया तो पता चला कि उनका नाम प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की सूची में नहीं है और प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना राशि केवल उन्हीं किसानों को मिलती है जिनके पास कृषि भूमि है जबकि इनके पास एक भी कृषि भूमि नहीं है। तब इसे अभास हुआ कि शौकीलाल ने हमें प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि योजना की राशि दिलवाऊंगा कहकर हमसे एक हजार रूपया लेकर हमारे साथ धोखाधड़ी किया है। सारंगढ़ थाना प्रभारी निरीक्षक आशीष वासनिक पीडित कृष्णा साहू से जानकारी लेकर शौकीलाल सतनामी को हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ किया जिसमें पता चला कि शौकीलाल सतनामी, जितेंद्र रात्रे पिता हेतराम रात्रे उम्र 26 वर्ष निवासी बासीन बहरा, गजानन पिता माखनलाल निराला उम्र 33 वर्ष निवासी पिण्डकरी, धनेश्वरी पति शिवनारायण अजय उम्र 28 साल निवासी बासीनबहरा, धनीराम साहू निवासी छिंद, गौतम जाटव निवासी साल्हे, सभी थाना सारंगढ़ द्वारा एक राय होकर अवैध रूप से धन प्राप्त करने के उद्देश्य से सारंगढ़ क्षेत्र के किसान जिनके पास कृषि भूमि नहीं है उन्हें प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत प्रति वर्ष ₹6000 उनके बैंक खाते में दिलाए जाने का आश्वासन देकर उनसे आधार कार्ड, बैंक पासबुक की फोटोकॉपी और एक-एक रूपये लिए थे परंतु प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में उन्हीं किसानों को लाभ मिलता है जिनके पास 5 एकड़ से कम कृषि भूमि होती है। अब तक की विवेचना में करीब 300 किसानों के साथ आरोपीगण ठगी करने की जानकारी मिल रही है। आरोपियों से पूछताछ में यह भी पता चला है कि आरोपीगण क्षेत्र के पढ़े-लिखे नौजवानों को रुपए कमाने का लालच देकर एजेंट बनाते थे और किसानों को झूठी भ्रमक जानकारी देकर उनके आधार कार्ड, पासबुक फोटो कॉपी एकत्र कराया जा रहा था। आरोपी शौकीलाल सतनामी, जितेंद्र रात्रे, गजानन निराला को गिरफ्तार किया गया है। शेष तीन आरोपी फरार हैं उनकी सरगर्मी से पतासाजी की जा रही है। आरोपियों के कब्जे से ग्रामीणों के आधार कार्ड पासबुक की फोटो कॉपी जप्त की गई है।