प्रिया को रास्ते से हटाने प्रेमी ने भाई के साथ मिलकर कर दी उसकी गला घोंटकर हत्या…..पढ़िए, पुलिस ने कैसे सुलझाया हत्या की इस गुत्थी को…


कोरबा 17 सितंबर 2020:- कोरबा के कटघोरा थाना अंतर्गत जामपानी के जंगल मे 21जुलाई 2020 को कंकाल मिलने की जानकारी पुलिस को मिली थी। पुलिस ने इस मामले में मृतका के प्रेमी और उसके भाई को गिरफ्तार किया है। हुए घटनाक्रम की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है।

मामले का खुलासा करते हुए कटघोरा टीआई अविनाश सिंह ने बताया कि बोधराम कुर्रे पिता स्व. जगतराम कुर्रे उम्र 38 वर्ष चुहराडांड़ रजकम्मा ने 01.07.2020 को थाना में आकर अपनी लड़की प्रिया कुर्रे 18 वर्ष की गुम होने का रिपोर्ट दर्ज कराया था। गुम इंसान कायम कर पतासाजी के दौरान 21.07.2020 को जटगा चौकी अंतर्गत उसका कंकाल मिला था। विवेचना के दौरान प्रिया के परिजनों द्वारा जटगा चौकी में बताया गया था कि, मृतिका 18 वर्ष पूर्ण होने के 10 दिन बाद घर से गायब हुई थी।

अतः मामला प्रथम दृष्टया प्रेम प्रसंग का लगने से उन्ही पहलुओं पर ध्यान केन्द्रित कर विवेचना को आगे बढ़ाया गया। पता चला कि मुतिका का गांव के ही लखन यादव के साथ प्रेम संबंध पिछले दो-तीन साल से था। शक की सुई लखन यादव पर आकर अटकने से लखन यादव से पूछताछ किया गय। पहले तो लखन यादव ने इंकार किया और बताया कि जब से प्रिया गायब हुई है तब से मैं घर पर ही हूँ। लखन के मोबाईल का सीडीआर निकाला गया तो पता चला कि घटना वाले दिन लखन का लोकेशन घटना स्थल पर था। कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने अपराध घटित करना कबूल किया।

यह भी पाया गया कि लखन यादव की शारीरिक स्थिती काफी कमजोर है और वह अकेले हत्या करके शव को पेंड़ पर नहीं टांग सकता। इस दौराम सीडीआर का अवलोकन किया गया। आरोपी के द्वारा घटना समय से पूर्व किसी एक नंबर से बातचीत की गई तथा घटना के बाद से कोई बातचीत नहीं हुआ। शक के आधार पर उस नंबर का सीडीआर निकाला गया तो पता चला कि वह नंबर आरोपी के बड़े भाई जगमोहन यादव का है। जिसका लोकेशन घटना समय पर रावा के जंगल में दिखा रहा है।

जगमोहन को पकड़कर कड़ी पूछताछ में वह टूट गया और दोनों भाई ने मिलकर प्रिया कुर्रे की गला घोंटकर हत्या करना तथा शव को पेड़ पर टांगना स्वीकार किया। आरोपियों से मोटर सायकल व मोबाईल की जप्ती की गई। टीआई ने बताया कि मृतका का लखन यादव से प्रेम संबंध था और लखन यादव का शादी कटघोरा में दूसरी लड़की से तय होने से प्रिया को रास्ते से हटाने के मकसद से दोनों भाई मिलकर उसकी हत्या कर दिये।