छ.ग./ 43 करोड़ रुपये में बनेगा मां बम्लेश्वरी मंदिर का पर्यटन स्थल..! देखें आकर्षण फोटोज..!


रायपुरः छत्तीसगढ़ वासियो को इस कोरोना के दौर में भी देश के पर्यटन मंत्रालय की ओर से बड़ी खुशखबरी मिली है, अब रायपुर स्थित मां बम्लेश्वरी की नगरी डोंगरगढ़ का नाम देश के पर्यटन नक्शे में शामिल किया गया है। इस क्षेत्र के लोगों को अब अपने पास ही एक धार्मिक पर्यटन स्थल के सौंदर्य को निहारने का मौका मिलेगा। पर्यटन मंत्रालय द्वारा इस स्थान के लिए 43 करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि प्रस्तावित की गई है।

43 करोड़ रुपये किए जाएंगे खर्च

पर्यटन मंत्रालय इस धार्मिक स्थल को और सुन्दर बनाने के लिए 43 करोड़ से ज्यादा की राशि खर्च करने वाला है, इस परियोजना के तहत मां बम्लेश्वरी मंदिर की सीढ़ियों पर पर्यटन सुविधाएं, पार्किंग और तालाब का सौंदर्यीकरण भी किया जाएगा, साथ ही श्रद्धालुओं और पर्यटको की सुविधा के लिए क्षेत्र को विकसित किया जाएगा। इस योजना का मुख्य आकर्षण श्रीयंत्र की डिजाईन में विकसित किए जाने वाले सुविधा केंद्र होंगे, जो श्रद्धालुओ के लिए स्थापित किए जाएंगे।

मंदिर के नाम पर ही पड़ा शहर का नाम

छत्तीसगढ़ राज्य में डोंगरगढ़, राजनांदगांव जिले का एक शहर है, जो पहाड़ी पर स्थित मां बम्लेश्वरी मंदिर के लिए ही प्रसिद्ध है, डोंगरगढ़ शब्द में ‘डोंग’ का अर्थ है ‘पहाड़’ और ‘गढ़’, जिसे किला कहा जाता है, 1600 फीट की ऊंची पहाड़ी पर स्थित मंदिर के कारण ही शहर का नाम डोंगरगढ़ पड़ा, राज्य का ये शहर हिंदुओं की धार्मिक सद्भाव के साथ ही बौद्ध, सिख, इसाई और जैन समुदाय के लोगों की धार्मिक आस्था को भी जीवित रखे हुए हैं।

मंदिर की पहाड़ी के नीचे बनेगा स्थान

डोंगरगढ़ में बने मां बम्लेश्वरी के मंदिर के लिए इस पर्यटन स्थान को बनाया जाएगा, यहां मां का मंदिर पहाड़ी पर बना हुआ है, जिसके नीचे ही पर्यटन स्थल को भी बनाया जाएगा, प्रशासन ने प्रस्तावित पर्यटन स्थल का एक मॉडल तैयार कर, उसकी तस्वीरों को शेयर किया है। इन तस्वीरों में देखा जा रहा मॉडल श्रीयंत्र की डिजाइन में बनाया गया है।