छत्तीसगढ़/ टीका लगवाने के बाद रायपुर अस्पताल की नर्स की तबियत बिगड़ी..! जाने पूरा मामला..!

रायपुर,20 जनवरी।  के आम्बेडकर अस्पताल की नर्स देवकी सोनवानी की तबीयत बिगडऩे के बाद स्वास्थ्य विभाग की नींद उड़ी हुई है उन्‍हें 16 जनवरी को कोरोना का टीका लगाया गया था कोरोना वैक्सीनेशन का पहला डोज दिए जाने के बाद भी कई जगहों से लोगों की तबियत खराब होने की खबरें आती रही हैं, जानकारी के अनुसार, यहां पहले दिन कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड का डोज लेने वाले 78 वर्षीय डॉ. अरुण टी दाबके की तबियत खराब हुई थी, लेकिन अब वह पूरी तरह स्वस्थ हैं। उन्हीं के साथ वैक्सीन की डोज लेने वाली रायपुर के आम्बेडकर अस्पताल की नर्स देवकी सोनवानी की तबीयत बिगड़ने से स्वास्थ्य विभाग परेशान है चिकित्सकों का कहना है कि नर्स देवकी की तबियत थोड़ी सी खराब है यह सामान्य सी बात है इसमें घबराने जैसी कोई बात नहीं है टीका लगने के बाद यह स्वाभाविक है।

राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. अमर सिंह ठाकुर ने बताया कि उन्होंने उसी दिन जिला अस्पताल में टीका लगवाया था उन्होंने कहा, टीका लगने के बाद से उन्हें कोई कठिनाई नहीं महसूस हुई है रायपुर में डॉ. भीमराव आम्बेडकर अस्पताल के अधीक्षक डॉ. विनीत जैन ने कहा है कि उनको कोरोना टीका लगने के बाद कोई परेशानी नहीं हो रही है कुछ लोगों को हल्का बुखार की समस्या थी। वह सामान्य सी बात है. छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, प्रदेश में कहीं से भी ऐसी जानकारी नहीं है कि कोरोना टीका लगने से किसी भी व्यक्ति को परेशानी हुई हो. हम इस पर लगातार नजर बनाए हुए हैं।

दो दिनों में 10 हजार को ही लग सका टीका

छत्तीसगढ़ में कोरोना वैक्सीनेशन अभियान 16 जनवरी से शुरू हुआ, प्रदेश भर में इसके लिए 97 केंद्र बनाए गए हैं, टीकाकरण के दो दिन के सत्र में 19 हजार लोगों की जगह केवल 10 हजार 872 लोगों को टीका लगाया जा सका है. शनिवार को 62 प्रतिशत और सोमवार को 56 प्रतिशत लोगों को ही टीका लगा।