अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय सम्बंधित कॉलेजों की 71.08 फीसदी सीटे खाली, आज दाखिले की आखिरी तारीख

बिलासपुर 15 सितंबर 2020:- अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय से संबद्ध 190 कॉलेजों में स्नातक प्रथम में प्रवेश को लेकर इस साल खराब स्थिति है। 71.08 फरसदी सीटें खाली हैं। शासकीय महाविद्यालयों में भी आशा के अनुरूप छात्र-छात्राएं प्रवेश लेने नहीं पहुंच रहे। प्रथम वर्ष में 45 हजार 34 सीट है।

बिलासपुर सहित मुंगेली, जांजगीर-चांपा, कोरबा और रायगढ़ सभी जगह एक समान स्थिति है। निजी महाविद्यालय बंद होने के कगार पर पहुंच गए हैं। दो बार मेरिट लिस्ट जारी होने के बाद भी संस्थाओं को संकट का सामना करना पड़ रहा है। प्राचार्यों का कहना है कि पिछले साल ऐसी स्थिति नहीं थी। सत्र 2020-21 में अंतिम तिथि से एक दिन पहले तक सिर्फ 28.92 छात्र-छात्राओं ने अपनी सीट कंफर्म किया है।

वहीं शासकीय जेपी वर्मा कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय में 20 गुना अधिक पंजीयन हुआ था।

इसके बाद भी यहां सीट खाली है। अटल विवि के पोर्टल के मुताबिक सबसे अधिक सीएमडी और डीपी विप्र में भी इस बार काफी सीटें खाली हैं। 16 सितंबर की शाम 5 बजे प्रवेश का अंतिम दिन है। गौरतलब है कि प्रथम वर्ष में कुल 45 हजार 34 सीट है। जिसमें 13 हजार 28 छात्र-छात्राएं प्रवेश की पुष्टि कर चुके हैं।

प्रमुख कॉलेजों में संकायवार रिक्त सीटें

कॉलेज बीए बीकॉम बीएससी

जेपी वर्मा कॉलेज 212 70 100

माता शबरी नवीन कन्या 151 63 नहीं

अग्रसेन महाविद्यालय 176 66 37

सीएमडी कॉलेज 227 525 270

डीपी विप्र कॉलेज 306 300 192

डीएलएस कॉलेज 192 111 72

एसबीटी 96 25 87

महामाया एक्सीलेंसी 58 40 नहीं

नलिनी प्रभा देव 91 36 59

शांति निकेतन 60 59 19

पीजी में 17 हजार सीट

संभाग के पीजी कॉलेजों में कुल 17 हजार 40 सीट है जिसमें प्रवेश के लिए अभी पोर्टल नहीं खुला है। अंतिम वर्ष की परीक्षा के बाद संभव होगा। यानी एक अक्टूबर से प्रवेश का रास्ता साफ हो सकता है। बीएड कॉलेजों में भी प्रवेश को लेकर स्थिति अच्छी नहीं है। विधि महाविद्यालय के प्राचार्य भी शांत बैठे हैं। कौशलेंद्र राव विधि महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो.सतीश तिवारी ने कहा कि 10 फीसद प्रवेश नहीं हुआ है।

कॉलेजों में प्रवेश का मंगलवार को अंतिम दिन है। छात्र-छात्राओं ने तिथि बढ़ाने मांग की है। शासन को हमनें अवगत करा दिया है। आदेश आने के बाद आगे निर्णय लेंगे। इस वर्ष कॉलेजों में प्रवेश को लेकर संकट की स्थिति है।

– प्रो.सुधीर शर्मा, कुलसचिव, अटल बिहारी वाजपेयी विवि