बालको में संशोधित स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना 17 अक्टूबर तक लागू


0 कोरोना काल में 50 वर्ष से अधिक आयु के स्वास्थ्य की दृष्टि से संवेदनशील कर्मचारियों के लिए सुनहरा अवसर।

·0 ‘जेस्चर बोनस’ के नए प्रावधान से होगा आठ लाख रुपए तक अतिरिक्त लाभ।

·0 आवेदन करने वाले प्रथम 100 कर्मचारियों को ‘अर्ली बर्ड’ के अंतर्गत 50 हजार रुपए का बोनस।

·0 सेवानिवृत्ति राहत निधि के तौर पर मिलेगी 50 हजार रुपए की राशि।

·0 स्वैच्छिक सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति की कल्पित आयु पूरी होने की अवधि तक मिलेगी संपूर्ण चिकित्सा सुविधा।
कोरबा 6 अक्टूबर । भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बालको) प्रबंधन ने संशोधित स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना, 2000 के प्रावधानों के अंतर्गत अपने अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिए स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लागू कर दी है। कोविड-19 की परिस्थितियों को देखते हुए बालको प्रबंधन ने योजना में अनेक प्रावधान किए हैं। 50 वर्ष से अधिक उम्र के कर्मचारियों को ध्यान में रखकर तैयार योजना ऐसे कर्मचारियों के लिए विशेष लाभप्रद होगी जो विभिन्न तरह की स्वास्थ्य समस्याओं से जूझ रहे हैं और कोरोना वाइरस के संक्रमण की दृष्टि से अत्यंत संवेदनशील हैं।

6 से 17 अक्टूबर, 2020 तक लागू योजना के अंतर्गत 31 अक्टूबर, 2020 तक स्वैच्छिक सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों के लिए ‘जेस्चर बोनस’ योजना भी लागू की गई है जिससे योजना के अंतर्गत सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों को आठ लाख रुपए तक का अतिरिक्त लाभ होगा। आवेदन करने वाले प्रथम 100 कर्मचारियों को ‘अर्ली बर्ड’ के अंतर्गत 50 हजार रुपए का बोनस दिया जाएगा। ‘जेस्चर बोनस’ कर्मचारियों को प्राप्त विभिन्न प्रकार के भत्तों की समुचित प्रतिपूर्ति स्वरूप एकमुश्त राशि है ताकि कर्मचारी को बकाया सेवाकाल के इस एवज में आर्थिक प्रतिपूर्ति हो सके। इसकी गणना सेवा के प्रत्येक शेष वर्ष के लिए 50 हजार रुपए प्रति वर्ष की दर से की जाएगी, जो कि आठ लाख रुपए अधिकतम (सेवा की शेष अवधि के लिए आनुपातिक) की विषयवस्तु है। ‘जेस्चर बोनस’ का लाभ 56 वर्ष से अधिक उम्र वाले स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति के इच्छुक कर्मचारियों को भी मिलेगा।
जनशक्ति का यथेष्ट उपयोग करने की दिशा में महत्वपूर्ण है योजना
जनशक्ति का यथेष्ट उपयोग करने, दुर्घटना अथवा चिकित्सकीय आधार पर काम कर सकने में असमर्थ कर्मचारियों को लाभ पहुंचाने एवं सेवानिवृत्ति की आयु पूर्ण होने से पहले सेवानिवृत्त होने के इच्छुक कर्मचारियों को ‘स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना’ से पूर्ण सेवा का लाभ प्राप्त करने की पहल में योजना लागू की गई है।
स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति के लाभ
स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति पाने के इच्छुक कर्मचारियों का आवदेन स्वीकार होने की स्थिति में उन्हें मूल वेतन एवं महंगाई भत्ते के साथ 60 दिनों का वेतन सेवाकाल के पूर्ण किए गए प्रत्येक वर्ष के लिए अथवा सेवाकाल के लिए शेष महीनों का वेतन, दोनों में से जो भी कम हो, के लिए अनुग्रह राशि देय होगी। बालको कर्मचारी भविष्यनिधि नियमावली के अंतर्गत कर्मचारी के भविष्यनिधि खाते में जमा शेष राशि का भुगतान किया जाएगा। नियमानुसार ग्रेच्युटी देय होगी। बालको यात्रा भत्ता नियमावली के अनुसार कर्मचारी और उसके परिवार के आश्रित सदस्यों को घोषित गृहनगर तक जाने के लिए पात्र श्रेणी का यात्रा किराया देय होगा। इसमें घरेलू सामानों का परिवहन किराया और सेटलिंग इन एलाउंस भी शामिल है। योजना के अंतर्गत 31 अक्टूबर, 2020 को कंपनी की सेवा से सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों को 50 हजार रुपए की सेवानिवृत्ति राहत निधि का लाभ भी प्रदान किया जाएगा।
संपूर्ण चिकित्सा सुविधा
स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना में शामिल में होने वाले कर्मचारी स्वयं, जीवनसाथी एवं आश्रित बच्चों सहित बालको चिकित्सालय में उपलब्ध संपूर्ण चिकित्सा सुविधा का लाभ, रेफरल लाभ सेवानिवृत्ति की कल्पित आयु पूरी होने तक प्राप्त कर सकते हैं। अर्थात् ऐसे कर्मचारी जो समूह चिकित्सा बीमा पॉलिसी में शामिल नहीं होना चाहते वे बालको चिकित्सालय में उपलब्ध संपूर्ण चिकित्सा सेवाओं का लाभ सेवानिवृत्ति की कल्पित आयु तक उठा सकेंगे। बीमा पॉलिसी के प्रावधानों के अनुरूप सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारी को उसके जीवनसाथी एवं आश्रित बच्चों सहित सहित कुल दो लाख रुपए प्रति वर्ष की ‘समूह चिकित्सा बीमा पॉलिसी’ देय होगी। स्वैच्छिक सेवानिवृत्त योजना के अंतर्गत 31 अक्टूबर, 2020 को सेवामुक्त होने कर्मचारियों के लिए चिकित्सा बीमा, सेवानिवृत्ति की कल्पित आयु पूरी होने की अवधि तक मेडिकल इंश्योरंस कव्हरेज लागू होगा।
कर्मचारियों की सुविधा के लिए हेल्प डेस्क
संशोधित स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना में आवेदन पत्र प्रस्तुत करने के लिए हेल्प डेस्क बनाए गए हैं। योजना का लाभ लेने के इच्छुक कर्मचारी बालकोनगर टाउनशिप कार्यालय, बालको लर्निंग सेंटर, फाउंड्री ऑफिस के कान्फरेंस हॉल, प्लांट-2 लैब और क्षेत्रीय कार्यालयों में सुबह 9.00 से 6.00 बजे तक तक संबंधित अधिकारियों को अपने आवेदन पत्र दे सकते हैं।