मौसम अलर्ट: मानसून की वापसी के संकेतों के बीच इन राज्यों में जमकर बारिश होने की आशंका…


24×7 News Desk:- देश भर से मानसून की विदाई शुरू हो गई है। हालांकि अभी भी कुछ राज्‍यों में निम्म दबाव की वजह से जमकर बारिश हो रही है। ओडिशा के तटीय क्षेत्रों में साइक्लोनिक सर्कुलेशन बना हुआ है। इसका प्रभाव पूर्वी बिहार से पश्चिम बंगाल के गंगा के तटों तक बना हुआ है। झारखंड के धनबाद और आसपास के इलाकों में भी इसका प्रभाव है।

झारखंड के इन इलाकों में बारिश

झारखंड के पलामू ,लातेहार और गिरिडीह में बारिश की होने की संभावना मौसम विभाग ने व्यक्त की है। गौरतलब है कि मॉनसून के लौटते ही साइक्लोन सीजन शुरू हो जाता है। अक्टूबर-नवंबर-दिसम्बर में बंगाल की खाड़ी चक्रवाती तूफान विकसित होने के परिस्थितियां अनुकूल रहती हैं।

बदलेगा हवाओं का रुख

हवाओं के रुख में बदलाव हो सकता है। 7 से 9 अक्टूबर के बीच हवाओं का रुख फिर से बदलकर पूर्वी और दक्षिण पूर्वी होने की संभावना है, क्योंकि इस दौरान मध्य प्रदेश पर एक निम्न दबाव का क्षेत्र ओडिशा की तरफ से आने वाला है।

इन राज्यों में भारी बारिश का अनुमान

मौसम विभाग के मुताबिक, पहले से बने हुए निम्न दबाव की वजह से ओडिशा से लेकर छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर भारत के कई इलाकों में बारिश हो रही है। इसके साथ ही छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा में अलग-अलग स्थानों पर गरज के साथ हल्की बौछारें पड़ सकती हैं।

तो वहीं अरुणाचल प्रदेश और ओडिशा में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है। इसके साथ ही असम, मेघालय, पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और तटीय आंध्र प्रदेश में भी भारी बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक झारखंड, छत्तीसगढ़ और ओडिशा में 7 अक्टूबर को बारिश होगी। अगले दो दिनों के दौरान ओडिशा, बिहार, झारखंड, गंगीय पश्चिम बंगाल में भारी बारिश होने की संभावना है।

इन इलकाों में शुष्क मौसम

आईएमडी ने अगले पांच दिनों के दौरान उत्तर पश्चिम भारत के अधिकांश इलाकों में शुष्क मौसम का पूर्वानुमान जताया है। बता दें कि उत्‍तर भारत में इन दिनों गर्मी और उमस हो रही है जिसके लोग परेशान है।

आईएमडी ने कही ये बात

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि बीते 24 घंटों के दौरान राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और गुजरात के कुछ और इलाकों से दक्षिण-पश्चिम मानसून की वापसी के लिए स्थिति अनुकूल बनती दिखाई दै रही हैं। बता दें कि दिल्ली में तापमान में मामूली गिरावट दर्ज हुई है। राष्ट्रीय राजधानी का न्यूनतम तापमान 19.3 डिग्री सेल्सियस रहा। वहां लोग गुलाबी ठंड महसूस कर रहे हैं।