चंद्रपुर महानदी पुल से सारंगढ निवासी एक व्यक्ति ने लगाया छलांग .. मछुआरों के प्रयास के बाद भी नहीं बची जान.. देखें वीडियो..!


चंद्रपुर। चंद्रपुर में महानदी पूल के ऊपर से एक अज्ञात आदमी जिसकी उम्र लगभग 40 साल की होगी अपने जीवन से व्यथित होकर पुल के ऊपर से छलांग लगाकर अपनी जान दे दी। मिली जानकारी के अनुसार चंद्रपुर में मंगलवार की सुबह एक अज्ञात आदमी द्वारा महानदी पुल के पास पहुंचा और पुल के ऊपर से कूद गया। जिस पर वह गहरे पानी में चला गया। हो हल्ला होने पर एक मछुआरा पहुंचा उसने तुरंत जाल डाला और उसे बाहर निकाला। बेहोश समझकर उसे अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने उसकी जेब में मिले मोबाइल नंबर में संपर्क किया गया तो उसकी शिनाख्त हो पाई।

चंद्रपुर टीआई जीएस राजपूत ने बताया कि मंगलवार सुबह चंद्रहासिनी मंदिर के पास के पुल के ऊपर से एक अज्ञात व्यक्ति महानदी में कूद गया। आसपास के लोगों ने हल्ला किया तो महानदी में मछली पकड़ने वाले मछ़ुआरे मौके पर पहुंचे। एक मछ़ुआरा के जाल में वह फंस गया। उसे बाहर निकाला गया और इलाज के लिए चंद्रपुर हॉस्पिटल लेकर गए लेकिन वहां डॉक्टर नहीं होने के कारण वहां से डभरा ले गए। जहां जांच के बाद डॉक्टर ने मौत की पुष्टि की। पुलिस ने पीएम के बाद शव को उसके परिजन को सौंप दिया।

देखें वीडियो

टीआई राजपूत के अनुसार मृतक की जेब से मिले कागज में लिखे मोबाइल नंबर के आधार पर संपर्क किया गया तो मृतक की शिनाख्त सारंगढ़ के वार्ड नंबर 9 बनियापारा निवासी मनोज साहू (60 वर्ष) पिता तहंगू राम के रूप में हुई। वह सारंगढ़ में किराना दुकान चलाता था। सोमवार की रात तक वह अपने घर में ही था। रात 8 बजे उसे वहीं देखा गया। इसके बाद वह किसी माध्यम से चंद्रपुर पहुंच गया और नदी में कूद कर आत्महत्या कर ली। एसडीओपी बीएस खूंटिया ने बताया कि मनोज साहू की पत्नी बीमार रहती है। इस वजह से लगभग दो साल से वह अपने मायके में रहती है। इसकी दो बेटी हैं जिनकी शादी हो चुकी है। दो बेटों में बड़ा बेटा कमाने खाने के लिए जम्मू कश्मीर गया हुआ है। छोटा स्थानीय स्तर पर काम करता है। घटना के कारणों की जानकारी नहीं मिल सकी है।