EXAM BREAKING CGPSC मेंस की परीक्षा आयोजित करने पर विपक्ष ने उठाए सवाल….कांग्रेस ने बेरोजगार युवा विरोधी बताया..

रायपुर 14 सितंबर कोरोना संक्रमण के बीच नीट जैसे परीक्षा के बाद अब राज्य लोक सेवा आयोग की परीक्षा शुरू हो रही है। दिनाँक 21 सितंबर को सिविल जज की परीक्षा आयोजित होना है, वहीं 18 से 21 अक्टूबर के बीच सीजी पीएससी मेंस की परीक्षा होना है। लेकिन परीक्षा की समय सारणी को लेकर विपक्ष ने सरकार पर प्रश्न खड़े कर दिए हैं।

प्रदेश के सरकार कांग्रेस के संचार विभाग के अध्यक्ष श्री शैलेष नितिन त्रिवेदी ने इस तरह के विरोध को बेरोजगार युवा विरोधी बताया है, उन्होंने कहा कि नीट परीक्षा का विरोध किया जा रहा था इसलिए क्योंकि उसमें बड़ी संख्या में छोटे उम्र के छात्र शामिल हो रहे थे, छोटे उम्र के बच्चो को संक्रमण का खतरा ज्यादा होता है। लेकिन सीजी पीएससी परीक्षा का विरोध करना एक युवा विरोधी रूख है।पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के अध्यक्ष अमित जोगी ने कहा कि जब केंद्र सरकार ने नीट एग्जाम कराने की घोषणा की थी, तब कांग्रेस पार्टी ने पूरे देश में इसका विरोध किया था। तर्क दिया था कि इससे परीक्षार्थियों की जान को खतरा है।

लेकिन इसी कांग्रेस की प्रदेश सरकार कोरोना में सीजी पीएससी की परीक्षा करवा रही है, उन्होंने सवाल किया कि क्या प्रदेश में कोरोना में सी जी पीएससी की परीक्षा करना उचित है, उन्होंने सरकार से अऩुरोध किया है कि प्रदेश के युवाओं की खातिर इस परीक्षा को फिलहाल थोड़े दिनों के लिए टाल दिया जाए।